Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जापान में पीएम मोदी बोले- अंतरराष्ट्रीय संबंधों में पूर्ण बहुमत की सरकार का अलग महत्व

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जापान के कोबे में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित कर रहे हैं। पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 7 महीने बाद एक बार फिर मुझे जापान की धरती में आने का मौका मिला है। पिछले बार जब मैं आया था तब मेरे मित्र सिंजो आबे पर भरोसा कर आपने उन्हें जिताया था।

जापान में पीएम मोदी बोले- अंतरराष्ट्रीय संबंधों में पूर्ण बहुमत की सरकार का अलग महत्वPM modi addresses the Indian community in Kobe Japan

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जापान के कोबे में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित कर रहे हैं। पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 7 महीने बाद एक बार फिर मुझे जापान की धरती में आने का मौका मिला है। पिछले बार जब मैं आया था तब मेरे मित्र सिंजो आबे पर भरोसा कर आपने उन्हें जिताया था। इस बार जब मैं आया हूं तब दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत ने इस प्रधान सेवक पर पहले से ज्यादा प्यार और विश्वास जताया है।

लाइव अपेडट..

- भारत की 130 करोड़ जनता के जीवन को आसान और सुरक्षित बनाने के लिए सस्ती और प्रभावी स्पेस टेक्नोलॉजी हासिल करना हमारा लक्ष्य है। मुझे खुशी है कि सफलता के साथ हम आगे बढ़ पा रहे हैं: पीएम मोदी

- डिजिटल लिटरेसी आज बहुत तेजी से बढ़ रही है। डिजिटल ट्रांजेक्शन रिकॉर्ड स्तर पर हैं, इनोवेशन और इन्क्यूबेशन के लिए एक बहुत बड़ा इंफ्रास्ट्रेक्चर तैयार हो रहा है। इसी के बल पर आने वाले 5 वर्ष में 50 हजार स्टार्टअप का इको सिस्टम भारत को बनाने का लक्ष्य हमने रखा है: पीएम मोदी

- पीएम आबे को दिल्ली के अलावा अहमदाबाद और वाराणसी ले जाने का सौभाग्य मुझे मिला। पीएम आबे मेरे संसदीय क्षेत्र और दुनिया की सबसे पुरानी सांस्कृतिक और आध्यात्मिक नगरी में से एक काशी में गंगा आरती में शामिल हुए। उनकी ये तस्वीरें भी हर भारतीय के मन में बस गई हैं: पीएम मोदी

- लगभग दो दशक पहले, प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी और प्रधानमंत्री योशिरो मोरी जी ने मिलकर हमारे रिश्तों को ग्लोबल पार्टनरशिप का रूप दिया था।

2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद, मुझे मेरे मित्र प्रधानमंत्री शिंज़ो आबे के साथ मिलकर इस दोस्ती को मजबूत करने का मौका मिला: पीएम मोदी

- गांधी जी की एक सीख बचपन से हम लोग सुनते आए हैं और वो सीख थी 'बुरा मत देखो, बुरा मत सुनो, बुरा मत कहो'। भारत का बच्चा-बच्चा इसे भली भांति जानता है, लेकिन बहुत कम लोगों को ये पता है कि जिन तीन बंदरों को इस संदेश के लिए बापू ने चुना उनका जन्मदाता 70वीं सदी का जापान है: पीएम मोदी

- जब दुनिया के साथ भारत के रिश्तों की बात आती है तो जापान का उसमें एक अहम स्थान है। ये रिश्ते आज के नहीं हैं, बल्कि सदियों के हैं। इनके मूल में आत्मीयता है, सद्भावना है, एक दूसरे की संस्कृति और सभ्यता के लिए सम्मान है: पीएम मोदी

- सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के जिस मंत्र पर हम चल रहे हैं, वो भारत पर दुनिया के विश्वास को भी मजबूत करेगा: पीएम मोदी

- न्यू इंडिया की आशाओं और आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए ये जनादेश मिला है। जो पूरे विश्व के साथ हमारे संबंधों को नई ऊर्जा देगा: पीएम मोदी

- लोकतंत्र के प्रति भारत के सामान्य जन की निष्ठा अटूट है। हमारी लोकतांत्रिक संस्थाएं और लोकतांत्रिक प्रणाली दुनिया में अग्रणी है। भारत की यही शक्ति 21वीं सदी के विश्व को नई उम्मीद देने वाली है: पीएम मोदी

- 1971 के बाद देश ने पहली बार एक सरकार को प्रो इंकम्बेंसी जनादेश दिया है। ये जीत सच्चाई की जीत है, भारत के लोकतंत्र की जीत है: पीएम मोदी

- 130 करोड़ भारतीयों ने पहले से भी मजबूत सरकार बनाई है। ये अपने आप में बहुत बड़ी घटना है। तीन दशक बाद पहली बार लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई है: पीएम मोदी

Share it
Top