Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अगर भारत के लिए पूरी तरह बंद किया एयरस्पेस तो कंगाल हो जाएगा पाक, इमरान को उल्टा पड़ेगा दांव

पाकिस्तान इन दिनों भारी आर्थिक संकट का सामना कर रहा है लेकिन भारत के खिलाफ बयानबाजियों से बाज नहीं आ रहे हैं। अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर पाकिस्तान सरकार के मंत्री फवाद चौधरी का कहना है कि पाकिस्तान अपना एयरस्पेस भारत के लिए पूर तरह बंद करने पर विचार कर रहा है। साथ ही अफगानिस्तान और भारत के बीच पाकिस्तान के रास्ते हो रहे व्यापार पर भी पूरी तरह प्रतिबंध लगाने का विचार कैबिनेट बैठक में सुझाया गया।

अगर भारत के लिए पूरी तरह बंद किया एयरस्पेस तो कंगाल हो जाएगा पाक, इमरान को उल्टा पड़ेगा दांव

पाकिस्तान इन दिनों भारी आर्थिक संकट का सामना कर रहा है लेकिन भारत के खिलाफ उसकी युद्ध की धमकियां कम नहीं हो रही हैं। अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर पाकिस्तान सरकार के मंत्री फवाद चौधरी का कहना है कि पाकिस्तान अपना एयरस्पेस भारत के लिए पूर तरह बंद करने पर विचार कर रहा है। साथ ही अफगानिस्तान और भारत के बीच पाकिस्तान के रास्ते हो रहे व्यापार पर भी पूरी तरह प्रतिबंध लगाने का विचार कैबिनेट बैठक में सुझाया गया। अगर पाकिस्तान सरकार यह कदम उठाता है तो इससे पहले की तरह भारत से ज्यादा पाकिस्तान को नुकसान हो सकता है।

फवाद चौधरी का यह बयान तब आया जब हाल ही में पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच जी-7 शिखर सम्मेलन में बैठक सम्पन्न हुई। पीएम मोदी ने इस दौरान ट्रंप के सामने ही स्पष्ट कर दिया कि भारत और पाकिस्तान के बीच के मुद्दे द्विपक्षीय हैं और हम तीसरे देश को कष्ट नहीं देना चाहते हैं। यहां भी पाकिस्तान की कूटनीति फेल हो गई।



पुलवामा हमले के बाद बीते 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में आतंकी शिविरों पर एयरस्ट्राइक की थी। इसके बाद पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस भारतीय विमानों के लिए बंद कर दिया था। लेकिन उसका यह फैसला खुद के पैर पर कुल्हाड़ी मारने जैसा साबित हुआ था।

688 करोड़ का नुकसान

एयरस्पेस बंद होने से पाकिस्तान को 688 करोड़ रुपये का घाटा झेलना पड़ा था। भारत की तुलना में यह दो सौ करोड़ ज्यादा था। इस भारी नुकसान के चलते पाकिस्तान ने 140 दिन बाद अपना एयरस्पेस भारतीय विमानों के लिए खोल दिया।

विदेशी कर्जों के चलते पाकिस्तान में इन दिनों महंगाई, बेरोजगारी चरम पर है। कई इलाकों में बिजली का संकट है। आर्थिक संकट के चलते तमाम समस्याएं सामने हैं। ऐसे में अगर पाकिस्तान फिर एयरस्पेस को लंबे समय तक के लिए बंद करने का फैसला करता है तो यह दांव उसको ही उल्टा पड़ जाएगा।

जम्मू-कश्मीर पर नहीं जुटा सका समर्थन

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटने के बाद से पाकिस्तान पूरी तरह से बौखलाया हुआ है। चीन की मदद से वह इस मसले को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में ले गया था लेकिन वहां उसे मुंह की खानी पड़ी। इसके अलावा दुनिया के कई देशों ने इसे साफ तौर पर भारत का आंतरिक मुद्दा बताया। पाकिस्तान इस्लामिक देशों का समर्थन तक नहीं जुटा सका।

Next Story
Share it
Top