Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Video: बहुत कुछ जानता हूं अगर बता दिया तो...इमरान खान की पार्टी के सदस्य ने किए सनसनीखेज खुलासे

लियाकत हुसैन ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें उन्होंने कहा कि खान साहब हम में से कोई भी गद्दार नहीं है, गद्दार नहीं हैं हमलोग। आपने हमें गद्दार करार दिया है, मैं अस्पताल में था मैं वोटिंग में नहीं था।

Video: बहुत कुछ जानता हूं अगर बता दिया तो...इमरान खान की पार्टी के सदस्य ने किए सनसनीखेज खुलासे
X

पाकिस्तान (Pakistan) में सियासी उठापटक जारी है, आए दिन कुछ ना कुछ सामने आ रहा है। एक बार फिर इमरान खान (Imran Khan) की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (Pakistan Tehreek‑e‑Insaf) के नेता और नेशनल असेंबली के मेंबर आमिर लियाकत हुसैन (Aamir Liaquat Husain) ने बेहद चौकाने वाले खुलासे किए हैं। दरअसल उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो जारी करते हुए कई दावे किए हैं। वहीं इन दावों में एक है कि इमरान खान पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल बाजवा को पद से हटाना चाहते थे। इस दौरान लियाकत हुसैन बेहद अक्रामक थे, साथ ही उन्होंने वीडियो में कहा कि इमरान खान ने सेना में बगावत करने की कोशिश की है।

लियाकत हुसैन ने किए कई खुलासे

बता दें कि लियाकत हुसैन ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें उन्होंने कहा कि खान साहब हम में से कोई भी गद्दार नहीं है, गद्दार नहीं हैं हमलोग। आपने हमें गद्दार करार दिया है, मैं अस्पताल में था मैं वोटिंग में नहीं था। मैंने वोट नहीं दिया, आपने मुझे गद्दार करार दे दिया.. अब दूंगा। कल तक तुम्हारे साथ था लेकिन अब उनके साथ हूं जो गद्दार थे। साथ ही लियाकत ने खुलासा करते हुए कहा- तुमने जनरल बाजवा को हटाने की जरूरत की, मैं गवाही देता हूं तुमने मुझे बुलाकर कहा कि मैं जनरल बाजवा को हटाने वाला हूं। बहुत बड़ी बात कह रहा हूं मैं और भी बहुत कुछ जानता हूं मैं, मैंने अगर अपना मुंह खोल दिया तो कयामत आ जाएगी।

आर्मी चीफ को हटाना चाहते हैं इमरान खान

लियाकत यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि, इमरान खान ने अपने खिलाफ विपक्ष के कदम के पीछे विदेशी साजिश को साबित करने के लिए जो पत्र दिखाए वो सब झूठ हैं फर्जी हैं। इमरान खान ने फौज में बगावत कराने की कोशिश की और कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद के जरिए आर्मी चीफ को हटाने की कोशिश की।

गौरतलब है कि इससे पहले विपक्ष इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया था। जिसे नेशनल असेंबली के डिप्टी स्पीकर ने रद्द कर दिया था। इसके बाद इमरान खान ने संसद को भंग करा दी थी। वहीं इन सब के लिए इमरान लगातार अमेरिका को जिम्मेदार ठहराते रहे हैं।

और पढ़ें
Next Story