Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Earthquake: इस्लामाबाद में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 4.5 रही तीव्रता

रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.5 मापी गयी है।  भूकंप का केंद्र इस्लामाबाद से 146 किमी दूर दक्षिण पश्चिम में था। जानकारी के अनुसार, भूकंप के झटके इस्लामाबाद के अलावा आस-पास के इलाकों में भी महसूस किए गए हैं। 

Earthquake: इस्लामाबाद में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 4.5 रही तीव्रता
X

पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस से जूझ रही है। कोरोना के इस संकट के बीच पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप के झटके महसूस होते ही लोग घरों से निकलकर सुरक्षित स्थान पर पहुंच गए। डॉन की खबर के अनुसार, इस्लामाबाद में भूकंप के ये झटके आज सुबह करीब 6.39 बजे महसूस किए गए हैं। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.5 मापी गयी है। भूकंप का केंद्र इस्लामाबाद से 146 किमी दूर दक्षिण पश्चिम में था। जानकारी के अनुसार, भूकंप के झटके इस्लामाबाद के अलावा आस-पास के इलाकों में भी महसूस किए गए हैं। हालांकि, भूकंप से किसी भी तरह के जान माल के नुकसान की खबर सामने नहीं आयी है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि इससे पहले बीते गुरुवार को पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इस्लामाबाद में राष्ट्रीय भूकंपीय निगरानी केंद्र के अनुसार गुरुवार शाम 7:19 बजे मंगोरा के दक्षिण पूर्व में 25 किमी की दूरी पर 4.4 तीव्रता का भूकंप आया था। भूकंप 20 किलोमीटर की गहराई में दर्ज किया गया।

क्यों आता है भूकंप?

आपको बता दें कि पृथ्वी के अंदर कई प्लेट्स हैं जो लगातार घूम रही हैं। जब ये प्लेट्स बार-बार टकराती है तो इनके कोने मुड़ते हैं। जब ज्यादा दबाव बनता है तो प्लेट्स टूटने लगती हैं। नीचे की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है। डिस्टर्बेंस के बाद भूकंप आता है। जब यह प्लेट्स ज्यादा टकराती हैं, वह जोन फॉल्ट लाइन कहलाता है।

इसलिए टकराती हैं प्लेंटे

दरअसल पृथ्वी के अंदर ये प्लेंटे बेहद धीरे-धीरे घूमती रहती हैं। इस प्रकार ये हर साल चार से पांच मिमी अपने स्थान से खिसक जाती हैं। कोई प्लेट दूसरी प्लेट के करीब जाती है तो कोई दूर हो जाती है। ऐसे में कभी-कभी ये प्लेटें एक दूसरे से टकरा जाती हैं।

और पढ़ें
Next Story