Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ का आरोप, हाफिज सईद के घर पर हुए ब्लास्ट में रॉ एजेंट का हाथ

पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ का कहना है कि इन आतंकवादियों से बरामद किए गए फोरेंसिक विश्लेषण, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण के जरिए, हमने मुख्य मास्टरमाइंड और इस आतंकवादी हमले के संचालकों की पहचान की है।

पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ का आरोप, हाफिज सईद के घर पर हुए ब्लास्ट में रॉ एजेंट का हाथ
X

मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड और प्रतिबंधित आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद के घर के बाहर बीते महीने बम धमाका हुआ था। पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ ने आरोप लगाया था कि इस हमले के पीछे एक भारतीय नागरिक का हाथ था।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि बीती 23 जून को पाकिस्तान में लाहौर के जौहर टाउन में राजस्व बोर्ड हाउसिंग सोसाइटी में हाफिज सईद के आवास के बाहर हुए बम धमाके में 3 लोगों की मौत हो गई थी और 24 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने नहीं ली है। पंजाब पुलिस प्रमुख और सूचना मंत्री फवाद चौधरी के साथ एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सालहकार ने कहा कि हमले का मास्टमाइंड एक भारतीय नागरिक है, जिसका संपर्क खुफिया एजेंसी के साथ है।

खबरों से मिली जानकारी के अनुसार, पंजाब पुलिस चीफ और सूचना मंत्री फवाद चौधरी के साथ एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सालहकार ने कहा कि हमले का मास्टमाइंड एक भारतीय नागरिक है। जिसका संपर्क खुफिया एजेंसी के साथ है। पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ का कहना है कि इन आतंकवादियों से बरामद किए गए फोरेंसिक विश्लेषण, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण के जरिए, हमने मुख्य मास्टरमाइंड और इस आतंकवादी हमले के संचालकों की पहचान की है। यह भी कहा गया है कि हमें आपको यह सूचित करने में कोई संदेह या आपत्ति नहीं है कि मुख्य मास्टरमाइंड भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ का है, जो भारत में ही रहता है।हालांकि उन्होंने किसी की भी पहचान जाहिर नहीं की है। बता दें कि हाल ही में भारत के विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के सभी दावों का खंडन किया था और कहा था कि आतंकी वारदातों में भारत की संलिप्तता के खिलाफ पाकिस्तान की तरफ से जुटाए गए सबूत कोरी कल्पना हैं। विदेश मंत्रालय ने कहा था कि पाकिस्तान को ऐसे आरोपों से कुछ ही समर्थक मिलेंगे।

और पढ़ें
Next Story