Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

2021 Nobel Prize: नोबेल अवॉर्ड्स का ऐलान, डेविड जूलियस और आर्डम पातापुतियन को मिला ये सम्मान, जानें इनके बारे में

साल 2021 के लिए नोबेल अवॉर्ड्स (2021 Nobel Prize Awards) का ऐलान कर दिया गया है। अमेरिकी वैज्ञानिक डेविड जूलियस (David Julius) और लेबनान के आर्डम पातापुतियन (Ardem Patapoutian) को संयुक्त रूप से ये अवॉर्ड दिया गया है।

2021 Nobel Prize: नोबेल अवॉर्ड्स का ऐलान, डेविड जूलियस और आर्डम पातापुतियन को मिला ये सम्मान, जानें इनके बारे में
X

साल 2021 के लिए नोबेल अवॉर्ड्स (2021 Nobel Prize Awards) का ऐलान कर दिया गया है। अमेरिकी वैज्ञानिक डेविड जूलियस (David Julius) और लेबनान के अर्देम पटापाउटियन (Ardem Patapoutian) को संयुक्त रूप से ये अवॉर्ड दिया गया है। दोनों को ये अवॉर्ड तापमान और स्पर्श के लिए रिसेप्टर्स की खोज को लेकर दिया गया गया है।

कौन हैं ये दो सम्मानित वैज्ञानिक

स्टॉकहोम में करोलिंस्का संस्थान के एक पैनल ने इन नामों की घोषणा की है। अमेरिकी वैज्ञानिक डेविड जूलियस (David Julius) और लेबनान के आर्डम पातापुतियन (Ardem Patapoutian) को तापमान और स्पर्श के लिए रिसेप्टर्स की खोज करने पर दिया है। इससे पहले बीते साल मेडिसिन में ये अवॉर्ड तीन वैज्ञानिकों को उनकी खोज के लिए दिया गया था। पिछले साल का पुरस्कार अमेरिकी हार्वे ऑल्टर और चार्ल्स राइस और ब्रिटेन के माइकल ह्यूटन को हेपेटाइटिस सी वायरस की पहचान करने के लिए दिया गया था। जो सिरोसिस और यकृत कैंसर का कारण बनता है।




कौन हैं डेविड जूलियस (Who is David Julius)

अमेरिकी वैज्ञानिक डेविड जूलियस का जन्म अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में साल 1955 में हुआ था। इन्होंने बर्कले की कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से 1984 में पीएचडी की थी। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया सैन फ्रांसिस्‍को में प्रोफेसर हैं। जो बच्चों को पढ़ाते भी हैं और साथ ही अपने शोध पर काम भी करते हैं।

कौन हैं आर्डम पातापुतियन (Who is Ardem Patapoutian)

अमेरिकी वैज्ञानिक आर्डम पातापुतियन लेबनाना के रहने वाले हैं। इनका जन्म 1967 में बेरूत में हुआ था। कहते हैं कि लेबनान में युद्ध का माहौल होने की वजह से बेरूत से अमेरिका आ गए थे। साल 1996 में उन्होंने कैलिफोर्निया इंस्‍टीटयूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी पेसाडेना से पीएचडी की और इसके बाद रिसर्च में जुट गए। अभी वर्तमान समय में आर्डम कैलिफोर्निया के स्क्रिप्‍स रिसर्च में काम कर रहे हैं।

Next Story