Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत के खिलाफ आक्रमक बयान देने वाले नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली के सुर नरम, दिखाया पॉजिटिव रिएक्शन

भारत के खिलाफ सीमा विवाद को लेकर आक्रमक बयान देने वाली नेपाल पीएम केपी ओली शर्मा के सुर अब नरम देख रहे हैं।

भारत के खिलाफ आक्रमक बयान देने वाले नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली के सुर नरम, दिखाया पॉजिटिव रिएक्शन
X

भारत के खिलाफ सीमा विवाद को लेकर आक्रमक बयान देने वाली नेपाल पीएम केपी ओली शर्मा के सुर अब नरम देख रहे हैं। भारत और नेपाल के बीच संबंधों को लेकर उन्होंने पॉजिटिव रिएक्शन देते हुए कहा कि अब सभी गलतफहमियां दूर हो गई हैं।

पीएम ओली ने कहा है कि भारत के साथ जो गलतफहमियां थी, उन्हें सुलझा लिया गया है और दोनों देशों को भविष्य को देखते हुए आगे बढ़ना चाहिए। दो पड़ोसी प्यार और समस्याएं दोनों साझा करते हैं। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि दोनों पड़ोसियों के बीच गलतफहमी हो गई थी। हालांकि, उन्होंने इन मुद्दों के बारे में विस्तार से नहीं बताया।

बता दें पिछले महीने ही ओली ने नेपाल को संबोधित करते हुए कहा था कि भारत के साथ सीमा मुद्दे से संबंधित बकाया मुद्दों को ऐतिहासिक समझौतों, मानचित्रों और तथ्यात्मक दस्तावेजों के आधार पर राजनयिक माध्यम से हल किया जाएगा। लेकिन अब कहा कि हां... एक समय में गलतफहमियां थीं, लेकिन अब वे गलतफहमियां दूर हो गई हैं। हमें पिछली गलतफहमियों में नहीं फंसना चाहिए, बल्कि भविष्य को देखते हुए आगे बढ़ना चाहिए। हमें एक सकारात्मक संबंध बनाने हैं।

भारत नेपाल सीमा विवाद

पिछले साल नेपाल के हिस्से में तीन भारतीय क्षेत्रों- लिंपियाधुरा, कालापानी और लिपुलेख को दिखाने वाले नए राजनीतिक मानचित्र को प्रकाशित करने के बाद भारत ने इसका कड़ा विरोध किया था। भारत ने कहा था कि नेपाल की कार्रवाई ने दोनों देशों के बीच बातचीत के जरिए सीमा मुद्दों को सुलझाने के लिए बनी समझ का उल्लंघन किया है। तब नेपाली विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ग्यावली ने इस साल जनवरी में दिल्ली का दौरा किया और विदेश मंत्री एस. जयशंकर के साथ द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की। ग्यावली ने कहा था कि इस मुद्दे को हल करने के लिए दोनों देशों की एक साझा प्रतिबद्धता है।

Next Story