Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लेबनान की राजधानी बेरुत में सिर्फ 12 सेकंड के धमाके ने कर दिया सब कुछ तबाह, सड़कों पर बिखरी मिली लाशें, 4000 से ज्यादा लोग घायल

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बीती मंगलवार शाम को लेबनान की राजधानी बेरुत में एक बड़ा धमाका हुआ। जिसकी गूंज 10 किलोमीटर तक गूंजने के दौरान शहर की सड़कों पर खून से लथपथ लाशें मिली।

लेबनान की राजधानी बेरुत में सिर्फ 12 सेकंड के धमाके ने कर दिया सब कुछ तबाह,  सड़कों पर बिखरी मिली लाशें, 4000 से ज्यादा लोग घायल
X

बीती मंगलवार की शाम को लेबनान की राजधानी बेरुत में एक बड़ा बम धमाका हुआ। जिसकी वजह से पूरी राजधानी तबाह हो गई। सिर्फ 12 सेकंड के बम धमाके में 10 किलोमीटर से ज्यादा के इलाके को पूरी तरह से तहस-नहस कर दिया। अब तक बम धमाके की वजह से 80 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 4000 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं। जिनका अस्पताल में इलाज किया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बीती मंगलवार शाम को लेबनान की राजधानी बेरुत में एक बड़ा धमाका हुआ। जिसकी गूंज 10 किलोमीटर तक गूंजने के दौरान शहर की सड़कों पर खून से लथपथ लाशें मिली और बम धमाके की वजह से लोग घायल हो गए। अभी तक इसकी जानकारी नहीं मिलेगी यह बम धमाका था या आतंकी साजिश थी।

बेरूत की सड़कों पर लाशों के टुकड़े बिखरे मिले सोशल मीडिया पर इसके कई विचित्र वीडियो और तस्वीरें वायरल हो रही है। जिसमें लोग खून से लथपथ दिख रहे हैं। पोर्ट के पास के इलाके के घर और बड़ी इमारतें मलबे का ढेर बन चुकी हैं। लेबनान के स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि अबतक 78 लोगों की मौत और 4,000 घायल हुए हैं।

ब्लास्ट ने एक लेबनान को पहले से ही अपने घुटनों पर खड़ा कर दिया। लेबनान की राजधानी में विस्फोट के लिए किस रसायन का इस्तेमाल किया गया इसकी जानकारी भी अभी तक नहीं मिली है। लेबनान के बेरूत में मंगलवार 4 अगस्त 2020 को हुए एक बड़े विस्फोट के बाद लोग भाग खड़े हुए।

राजधानी बेरूत में मंगलवार शाम को इसके बंदरगाह में दो विशाल विस्फोटों ने शहर भर में एक जबरदस्त विस्फोट किया। जिससे कम से कम 78 लोगों की मौत हो गई और हजारों लोग घायल हो गए। क्षति का पैमाना बहुत बड़ा है।

लेबनान के प्रधानमंत्री हसन दीब ने कहा कि विस्फोट का कारण 2,700 टन अमोनियम नाइट्रेट था। जो उर्वरक में इस्तेमाल होने वाले एक सामान्य औद्योगिक रसायन और खनन विस्फोटक में एक घटक के रूप में था। डायब ने विस्फोट के पीड़ितों के लिए शोक का राष्ट्रीय दिवस घोषित किया। फिलहाल, लेबनान में हुए बम धमाकों के बाद सुरक्षा एजेंसी अलर्ट हो गई हैं और इस धमाके की जांच की जा रही है।

Next Story
Top