Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अमेरिकी एजेंसी ने की भारत पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध की भविष्यवाणी, 2025 डेडलाइन

जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद भारत पाकिस्तान के बीच पैदा हुए तनाव के बाद अमेरिकी एजेंसी ने परमाणु युद्ध की भविष्यवाणी की है। रिपोर्ट के मुताबिक, 2025 तक दोनों देशों के बीच परमाणु युद्ध हो सकता है।

अमेरिकी एजेंसी ने की भारत पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध की भविष्यवाणी, 2025 डेडलाइनindia pakistan nuclear war warns study

जम्मू कश्मीर के बाद भारत पाकिस्तान के बीच पैदा हुए गतिरोध को देखते हुए अमेरिकी एजेंसी ने परमाणु युद्ध की भविष्यवाणी कर दी है। अमेरिका की एक यूनिवर्सिटी ने शोध किया है। जिसके मुताबिक, आने वाले वक्त में दोनों के रिश्ते और खराब होंगे और 2025 तक दोनों देशों के बीच परमाणु युद्ध हो सकता है।

परमाणु युद्ध की भविष्यवाणी

शोध रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत और पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध के वक्त एक हफ्ते में 12.5 करोड़ लोगों की जान चली जाएगी यानी की 50-125 मिलियन लोग मर सकते हैं। द्वितीय विश्व युद्ध के सभी 6 सालों के दौरान मरने वालों की संख्या से अधिक और वैश्विक जलवायु तबाही का कारण बन सकता है।

दोनों हैं परमाणु शक्ति

जानकारी के लिए बता दें ये शोध यूनिवर्सिटी ऑफ कोलोराडो बोल्डर और रटगर्स विश्वविद्यालय ने किया है। भारत और पाकिस्तान के पास लगभग 150 परमाणु हथियार हैं और यह संख्या 2025 तक 200 से अधिक होने की संभावना है।

दोनों के बीच जम्मू-कश्मीर धारा 370 को रद्द करने के बाद परमाणु हथियारबंद पड़ोसियों के बीच एक बड़ा तनाव है। शोध रिपोर्ट के मुताबिक, इस तरह के युद्ध से ना केवल उन स्थानों को खतरा होगा, जहां निशाना बनाया जा सकता है, बल्कि पूरी दुनिया को भी इसका खतरा रहेगा।

युद्ध हुआ तो ऐसे होंगे हालात

इस शोध में छात्रों ने 2025 में भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले युद्ध की परिदृश्य को देखा है। दोनों पड़ोसी देशों ने कश्मीर पर कई युद्ध किए हैं और फिर कश्मीर पर अनसुलझे संघर्ष है। शोध में कहा गया है कि धरती तक पहुंचने वाली धूप 20 से 35 प्रतिशत तक घट जाएगी, जिससे हमारे ग्रह की सतह 2 से 5 डिग्री सेल्सियस तक ठंडी हो जाएगी।

9 देशों के पास हैं परमाणु हथियार

इस वक्त 9 देशों के पास परमाणु हथियार हैं, लेकिन पाकिस्तान और भारत तेजी से हथियारों की होड़ में आगे बढ़ रहे हैं। कश्मीर के बीच जारी अशांति ने परमाणु युद्ध के परिणामों को समझना महत्वपूर्ण बना दिया है।

Next Story
hari bhoomi
Share it
Top