Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Pakistan: महंगाई ने तोड़ी आम जनता की कमर, एक कप चाय की कीमत जानकर हो जाएंगे हैरान

पाकिस्तान ने पिछले साल ही भारत से चीनी का आयात बंद कर दिया है जिसके कारण वहां चीनी की कीमत आसमान पर पहुंच गई है। इस कारण पाक में लोगों का चाय ने स्वाद बिगाड़ दिया है। यहां एक कप चाय की कीमत 40 रूपए हो चुकी है।

Pakistan News: इमरान सरकार की महंगाई ने तोड़ी आम जनता की कमर, एक कप चाय की कीमत जानकर हो जाएंगे हैरान
X

इमरान सरकार की महंगाई ने तोड़ी आम जनता की कमर

भारत (India) की हर वक्त आलोचना करने वाला पाकिस्तान (Pakistan) आज खुद अपने देश के लोगों से आलोचना सह रहा है। क्योंकि यहां इमरान सरकार (Imran Khan Government) की महंगाई (Inflation) ने आम जनता (People Of Pakistan) की कमर तोड़ दी है। जिसके कारण इस महंगाई में लोगों का जीना मुश्किल हो गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया गिरने से पिछले एक साल में बेतहाशा महंगाई देखने को मिली है। पाकिस्तान के शहरों और गांवों में भी रोजमर्रा की चीजों में जबरदस्त इजाफा देखने को मिल रहा है। यहां एक कप चाय (Tea Rate) की कीमत जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। क्योंकि उनकी चाय भी अब इतनी महंगी हो गई है कि अधिकतम लोगों ने चाय पीना ही छोड़ दिया है।

40 रुपये की है एक कप चाय

पाकिस्तान ने पिछले एक साल से भारत से चीनी का आयात बंद कर दिया है। जिसके कारण वहां चीनी की कीमत आसमान पर पहुंच गई है। यही वजह है कि पाक में लोगों का चाय ने स्वाद बिगाड़ दिया है। यहां एक कप चाय की कीमत 40 रूपये हो चुकी है। इस संबंध में पाकिस्तान में एक चायवाले ने कहा कि पहली बार एक कप चाय की कीमत 10 रुपये से बढ़कर 40 रुपये हो चुकी है। पिछले कुछ दिनों में चाय के सामानों में बेहद बढ़ोतरी के चलते चाय की कीमत में 35 प्रतिशत का इजाफा हुआ है।

पाकिस्तान में दूध के दाम 105 से बढ़कर 120 रूपये प्रति लीटर हो चुके हैं। इसके अलावा चायपत्ती की कीमत 800 से 900 रूपये किलो और गैस सिलेंडर के दाम 1500 से 3000 हजार रुपये तक पहुंच चुके हैं। एक दूसरे चायवाले ने बताया कि उसकी कमाई बुरी तरह प्रभावित हुई है और उसके पास चाय के दाम बढ़ाने के अलावा कोई और चारा नहीं बचा था। गौरतलब है कि चाय के दामों में वृद्धि का सबसे ज्यादा प्रभाव छोटे कारोबारी पर पड़ा है क्योंकि चाय की कीमत बढ़ने से कई ग्राहकों ने कम चाय पीनी शुरू कर दी है तो कई लोगों ने पीनी भी छोड़ दी है।

और पढ़ें
Next Story