Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत ही नहीं ईरान में भी हिजाब पर विवाद: सड़कों पर उतरीं हजारों महिलाएं, तीन की मौत, UN ने की जांच की मांग

ईरान में हिजाब नहीं पहनने पर 22 साल की महिला महसा अमिनी की पुलिस हिरासत में मौत (Mahsa Amini Death) के बाद कई हिस्सों में जमकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है।

भारत ही नहीं ईरान में भी हिजाब पर विवाद: सड़कों पर उतरीं हजारों महिलाएं, तीन की मौत, UN ने की जांच की मांग
X

ईरान (Iran) में बीते कुछ दिनों पहले पुलिस हिरासत (Police Custody) में हुई 22 साल की महिला महसा अमिनी की मौत (Mahsa Amini Death) के बाद कई हिस्सों में जमकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है। अमिनी ने देश में हिजाब नियम का उल्लंघन किया था और उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। अब पुलिस हिरासत में हुई मौत के मामले की जांच की मांग संयुक्त राष्ट्र में भी उठाई गई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, महसा की मौत के बाद ईरान में हिंसा की आग उग्र हो चुली है। देश में सरकार के खिलाफ हजारों की संख्या में महिलाएं सड़कों पर उतर आई हैं और महसा अमिनी के साथ न्याय की गुहार लगा रही हैं। ईरान में मंगलवार को प्रदर्शन का एक सिलसिला शुरू हो चुका है, जहां प्रदर्शन के दौरान तीन लोगों की मौत ह गई है। 22 साल की महसा अमिनी को धार्मिक पुलिस ने हिरासत में लिया था और उसी दौरान उसके साथ मारपीट भी हुई। लेकिन पुलिस का कहना है कि हार्ट अटैक से मौत हुई है।


अल-जजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक, ईरान की सरकार ने पुष्टि करते हुए कहा कि हाल के दिनों में अवैध विरोध प्रदर्शन के दौरान तीन लोगों की मौत हो चुकी है। वीडियो में देख सकते हैं कि महसा को न्याय दिलाने के लिए हजारों की संख्या में महिलाएं इकट्ठी नजर आ रही हैं और सभी ने अपने हिजाब उतार रखे हैं, कई महिलाओं ने प्रदर्शन के दौरान हिजाब जला दिए।

जानकारी के लिए बता दें कि बीते मंगलवार की रात को ईरान के करमान शहर में प्रदर्शन हुआ। जहां महिलाओं को सार्वजनिक जगहों पर हिजाब पहनना अनिवार्य है। बीते सप्ताह एक 22 साल की महसा अमिनी की पुलिस हिरासत के दौरान मौत हो गई थी।

और पढ़ें
Next Story