Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लंदन हाईकोर्ट में विजय माल्या पर अहम सुनवाई, याचिका खारिज हुई तो एक महीने में लाया जाएगा भारत

बैंक धोखाधड़ी के मामले में भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण मामले की लंदन की कोर्ट में सुनवाई चल रही है। माल्या ने प्रत्यर्पण के आदेश के खिलाफ अपील याचिका दायर की है। कोर्ट मंगलवार को इस पर फैसला करेगी कि माल्या के खिलाफ जो आदेश जारी किया गया है उसे रद्द किया जाए या नहीं।

लंदन हाईकोर्ट में विजय माल्या पर अहम सुनवाई, याचिका खारिज हुआ तो एक महीने में लाया जाएगा भारतHearing on Vijay Mallyas plea against his extradition underway in London High Court.

बैंक धोखाधड़ी के मामले में भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण मामले की लंदन की कोर्ट में सुनवाई चल रही है। माल्या ने प्रत्यर्पण के आदेश के खिलाफ अपील याचिका दायर की है। कोर्ट मंगलवार को इस पर फैसला करेगी कि माल्या के खिलाफ जो आदेश जारी किया गया है उसे रद्द किया जाए या नहीं। कोर्ट अगर इस याचिका को खारिज करता है तो माल्या को एक महीने (28) के भीतर भारत लाया जा सकता है।

जानकारी के मुताबिक माल्या के वकील ने लंदन हाईकोर्ट को बताया कि ये केस भारत में शुरू हुआ, उन बैंकों को एयरलाइन की पूरी जानकारी थी उन्हें पता था कि उसकी कोई गारंटी नहीं है। वकील ने आगे कहा कि जो भी डॉक्यूमेंट हैं, उनपर ऐसा कोई सबूत नहीं है कि उनकी जांच की गई है। उन्होंने कहा कि बैंकों को माल्या की वित्तीय स्थिति की पूरी जानकारी थी।

माल्या के मामले की सुनवाई कोर्ट के रूम नंबर तीन में चल रही है। उसके वकील क्लेयर और आनंद दुबे अभी कोर्ट में ही हैं। सुनवाई के लिए सिद्धार्थ माल्या भी कोर्ट में पहुंचे हैं।

बता दें कि इससे पहले लंदन की एक कोर्ट ने विजय माल्या को भारत प्रत्यर्पित करने का आदेश दिया था। इस आदेश के बाद माल्या अपील याचिका दायर की थी जिसे कोर्ट ने ठुकरा दिया था।

विजय माल्या साल 2016 के मार्च के माह में भारत से लंदन के लिए फरार हो गया था। इसके बाद से भारत सरकार और तमाम जांच एजेंसिया उस पर शिकंजा कसकर वापस लाने की कोशिश कर रही हैं। दिसंबर 2018 में लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने माल्या को भारत भेजने का फैसला सुनाया था।

Next Story
Top