Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को व्यक्ति ने मारा थप्पड़, सुरक्षाकर्मियों ने दो को पकड़ा, जानें पूरा मामला

फ्रांसीसी मीडिया के मुताबिक, फ्रांस के प्रधानमंत्री ज्यां कास्टेक्स ने इस घटना को लोकतंत्र का अपमान बताया है। खबरों से मिली जानकारी के अनुसार, यह घटना उस समय हुई जब राष्ट्रपति मैक्रों दक्षिण-पूर्वी फ्रांस के ड्रोम क्षेत्र के दौरे पर पहुंचे थे। राष्ट्रपति ने कोरोना वायरस महामारी के कहर के बाद लोगों के जीवन को जानने के लिए रेस्टोरेंट्स का दौरा किया और छात्रों से मुलाकात भी की।

राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को व्यक्ति ने मारा थप्पड़, सुरक्षाकर्मियों ने दो को पकड़ा, जानें पूरा मामला
X

दक्षिणी फ्रांस में दौरे पर पहुंचे राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को भीड़ में मौजूद एक व्यक्ति ने उन्हें थप्पड़ मार दिया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया। वीडियो में सुरक्षाकर्मियों से घिरे राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों लोगों से मिलते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस दौरान एक व्यक्ति ने हाथ मिलाने के बाद उन्हें थप्पड़ मार दिया। घटना के तुरंत बाद एक्शन में आए सुरक्षाकर्मियों ने उस व्यक्ति को पकड़ लिया और घसीटते हुए दूर लेकर चले गए। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इस मामले के संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

फ्रांसीसी मीडिया के मुताबिक, फ्रांस के प्रधानमंत्री ज्यां कास्टेक्स ने इस घटना को लोकतंत्र का अपमान बताया है। खबरों से मिली जानकारी के अनुसार, यह घटना उस समय हुई जब राष्ट्रपति मैक्रों दक्षिण-पूर्वी फ्रांस के ड्रोम क्षेत्र के दौरे पर पहुंचे थे। राष्ट्रपति ने कोरोना वायरस महामारी के कहर के बाद लोगों के जीवन को जानने के लिए रेस्टोरेंट्स का दौरा किया और छात्रों से मुलाकात भी की।




जानकारी के अनुसार, व्यक्ति ने राष्ट्रपति को थप्पड़ मारा था उसने हमला करने के बाद डाउन विद मैक्रोनिया (ए बास ला मैक्रोनी) चिल्लाते हुए सुना गया। जिसके बाद मैक्रों के दो सुरक्षाकर्मियों ने हरे रंग की टी-शर्ट पहने शख्स को घेर लिया। जबकि दूसरे ने उन्हें बाहर निकाल दिया। लेकिन मैक्रों कुछ और सेकंड के लिए भीड़ के पास ही रहे। वे बैरियर के दूसरी तरफ किसी से बात करते हुए दिखाई दिए।

प्रधानमंत्री ने घटना के फौरन बाद नेशनल असेंबली को घटना के संबंध में जानकारी दें। प्रधानमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र का मतलब बातचीत और बहस है। किसी भी मामले में हम हिंसा का समर्थन नहीं कर सकते। विपक्ष के नेता जीनलुक मैल्कन ने कहा- हम अपने राष्ट्रपति के साथ खड़े हैं। राष्ट्रपति के दौरे के कुछ दिन पहले ही इस क्षेत्र में सात महीने बाद बार-रेस्टोरेंट्स खोले गए हैं। नाइट कर्फ्यू भी खत्म कर दिया गया है।

Next Story