Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत की कोविशील्ड वैक्सीन लेने वाले कर सकेंगे फ्रांस की यात्रा, कल से प्रभावी हो जाएंगे आदेश

विदेशी न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक फ्रांस ने अब तक चीन या रूस की वैक्सीन को मान्यता नहीं दी है। यही नहीं, फ्रांस ने लाल सूची में शामिल देशों के बीच यात्रा के खिलाफ भी सख्त हिदायत जारी की हैं।

भारत की कोविशील्ड वैक्सीन लेने वाले कर सकेंगे फ्रांस की यात्रा, कल से प्रभावी हो जाएंगे आदेश
X

फ्रांस ने भारत में उत्पादित कोविशील्ड वैक्सीन लगवाने वालों को भी देश में आने की अनुमति प्रदान की। 

भारत में उत्पादित कोविड-19 की वैक्सीन एस्ट्राजेनेका (कोविशील्ड) की डोज लेने वाले लोग फ्रांस की यात्रा कर सकेंगे। फ्रांस सरकार का यह फैसला रविवार यानी कल से प्रभावी हो जाएगा। हालांकि लाल सूची में शामिल देशों के लिए फ्रांस की यात्रा के लिए सख्त सलाह दी गई है।

फ्रांस के प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट के संक्रमण को रोकने के लिए सीमाओं पर जांच और कड़ी कर दी है। इसके साथ ही कोरोना वैक्सीनेशन करा चुके अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को एक देश से दूसरे देश जाने के लिए राहत भी प्रदान की गई है। इसके तहत जिन लोगों ने दोनों डोज लगवा रखी हैं, वो फ्रांस से बाहर आने या जाने के लिए जारी प्रतिबंधों के अधीन नहीं हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फ्रांस ने भारत के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा उत्पादित एस्ट्राजेनेका (कोविशील्ड) वैक्सीन लगवाने वालों को भी देश में आने की अनुमति प्रदान कर दी है। पहले केवल यूरोप में उत्पादित एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को मान्यता दी गई थी, जिसके बाद कड़ी आलोचना झेलनी पड़ी थी।

विदेशी न्यूज रिपोर्ट्स में बताया गया है कि फ्रांस ने अब तक चीन या रूस की वैक्सीन को मान्यता नहीं दी है। फ्रांस की ओर से जारी बयान में यह भी कहा गया है कि ब्रिटेन, स्पेन, पुर्तगाल, नीदरलैंड, ग्रीस और सिपरस से आने वाले उन लोगों को यात्रा से 24 घंटे पहले की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी, जिन्होंने किसी कारणवश वैक्सीन नहीं लगवाई है। इसके साथ ही फ्रांस ने लाल सूची में शामिल देशों के बीच यात्रा के खिलाफ कड़ी हिदायत दी है।

Next Story