Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अमेरिका में भारतीय मूल के एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या, शरीर पर गोलियों के निशान

अमेरिका में भारतीय मूल के एक ही परिवार के चार लोग मृत मिले, शरीर पर गोलियों के निशान मिले। अमेरिका के आयोवा राज्य में एक भारतीय अमेरिकी आईटी पेशेवर, उनकी पत्नी और उनके दो नाबालिग बच्चे अपने घर में मृत मिले। उनके शवों पर गोली के निशान पाये गए हैं।

अमेरिका में भारतीय मूल के एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या, शरीर पर गोलियों के निशान

अमेरिका में भारतीय मूल के एक ही परिवार के चार लोग मृत मिले, शरीर पर गोलियों के निशान मिले। अमेरिका के आयोवा राज्य में एक भारतीय अमेरिकी आईटी पेशेवर, उनकी पत्नी और उनके दो नाबालिग बच्चे अपने घर में मृत मिले। उनके शवों पर गोली के निशान पाये गए हैं।

अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। वेस्ट डेस मोइनेस पुलिस ने बताया कि संभवतया आंध्रप्रदेश के रहने वाले चंद्रशेखर सुंकारा (44), लावन्या सुंकारा (41) और उनके 15 वर्षीय तथा 10 वर्षीय बेटे शनिवार सुबह अपने घर में मृत पाये गए।

पुलिस विभाग के अधिकारी शनिवार सुबह दस बजे घटनास्थल पहुंचे और 65वीं स्ट्रीट के 900 ब्लॉक में इन शवों को पाया। 'एनबीसी न्यूज' ने वेस्ट डेस मोइनेस पुलिस के हवाले से कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आनी बाकी है, जिसके बाद ही मौत की वजह का पता चल पाएगा।

हालांकि, पुलिस ने शवों पर गोलियों के निशान होने की पुष्टि की है। जन सुरक्षा विभाग ने इस बात की पुष्टि की है कि चंद्रशेखर प्रौद्योगिकी सेवा ब्यूरो में सूचना प्रौद्योगिकी पेशेवर थे। इसने कहा कि मामले में अभी तक किसी भी संदिग्ध को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

सार्जेंट डैन वेड ने एक बयान में कहा कि इस दर्दनाक घटना का परिवार, मित्रों, सहकर्मियों और परिवार के परिचितों पर असर पड़ेगा। पुलिस ने बताया कि अभी किसी संदिग्ध को हिरासत में नहीं लिया गया है और उन्हें भरोसा है कि इस घटना से समुदाय को किसी प्रकार का खतरा नहीं होगा। सुंकारा से एक दशक से परिचित श्रीकर सोम्याज्ला ने कहा कि भारतीय समुदाय के साथ ऐसा नहीं देखा गया है।

उन्होंने कहा कि यह परिवार सबसे दोस्ताना व्यवहार रखता था इसलिए इस तरह उनका जाना बहुत तकलीफदेय है। उन्होंने कहा कि सुंकारा के दोनों बच्चे बहुत मेधावी थे। उन्होंने राष्ट्रीय स्तर तक की प्रतिस्पर्धाओं में हिस्सा लिया था।

Share it
Top