Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कांग्रेस सांसद ने दी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को चेतावनी, सिक्ख युवती को जबरदस्ती इस्लाम कबूल करवाने पर जताया ऐतराज

अमृतसर के कांग्रेस सांसद गुरजीत सिंह औजला ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने एक सिक्ख युवती जगजीत कौर का जिक्र किया है, जिसे जबरदस्ती इस्लाम धर्म कबूल करवा दिया गया।

कांग्रेस सांसद ने दी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को चेतावनी, सिक्ख युवती को जबरदस्ती इस्लाम कबूल करवाने पर जताया ऐतराज
X
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान- फाइल फोटो

अमृतसर के कांग्रेस सांसद गुरजीत सिंह औजला ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने एक सिक्ख युवती जगजीत कौर का जिक्र किया है, जिसे जबरदस्ती इस्लाम धर्म कबूल करवा दिया गया। उन्होंने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए इमरान खान को चेतावनी दी है।

सिक्ख युवती को जबरदस्ती इस्लाम धर्म कबूल करवाने पर जताया ऐतराज

गुरजीत सिंह ने कहा कि आपको पाकिस्तान की एक सिक्ख युवती के बारे में जरूर जानकारी मिली होगी। मुझे पता है कि आपने भी अपने जीवन का महत्वपूर्ण क्षण सिक्ख समुदाय के साथ बिताया है। साथ ही मुझे ये भी पता है कि हम दोनों राष्ट्रों में शांति स्थापित करने के लिए निरंतर प्रयास करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि सिक्ख समुदाय की एक युवती के साथ व्यवहार की जानकारी ने मुझे बहुत ठेस पहुंचाई है। और मैं इस घटना की कड़ी निंदा करता हूं।

जल्द से जल्द इस मामले को सुलझाया जाए

उन्होंने कहा कि सिक्ख समुदाय के सच्चे योद्धा और मेहनती कार्यकर्ता पूरे विश्व में फैले हुए हैं। लेकिन मौजूदा मामले ने आपकी सरकार के कार्यप्रणाली पर एक प्रश्न चिन्ह लगा दिया है। मैं जानता हूं कि देश के प्रमुख होने के नाते सभी मामले आपके अधीन आते हैं। इसलिए मैं चाहता हूं कि इस मामले को जल्द से जल्द सुलझाया जाए।

उन्होंने कहा कि इस पत्र के माध्यम से मैं सिक्ख समुदाय की लड़कियों पर हो रहे अत्याचार की कड़ी आलोचना करता हूं। साथ ही इस मामले को शांतिपूर्ण ढंग से सुलझाने की भी मांग करता हूं।



दी चेतावनी

उन्होंने कहा कि अगर इस मामले को जल्द से जल्द नहीं सुलझाया गया तो मैं इस मामले को हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने लाऊंगा। साथ ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर भी इस मामले को उठाकर जल्द से जल्द इसको सुलझाने के प्रयास में आगे बढूंगा। क्योंकि इस तरह का व्यवहार कतई बर्दाश्त करने योग्य नहीं है।

Next Story