Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चीन ने भूटान में अवैध तरीके से 1 साल में बसा दिए चार गांव, भारत के लिए चिंताजनक

चीन (China) ने इतना ही नहीं यहां पर अवैध रूप से चार गांव (four villages) भी बसा दिए हैं। ये सभी नए गांव लगभग 100 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैले हुए दिखा रहे हैं। 

चीन ने भूटान में अवैध तरीके से 1 साल में बसा दिए चार गांव, भारत के लिए चिंताजनक
X

भारत (India) के पड़ोसी देश चीन (China) की हड़प नीति लगातार जारी है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, भारत के साथ बॉर्डर विवाद (Border Dispute) के बीच ड्रैगन पड़ोसी देश भूटान की सीमा में भी घुसपैठ (intrusion) कर चुका है। एक समाचार चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने अपने बॉर्डर से लगे भूटान में करीब 25,000 एकड़ क्षेत्र पर अवैध कब्जा (Illegal possession) कर लिया है।

चीन (China) ने इतना ही नहीं यहां पर अवैध रूप से चार गांव (four villages) भी बसा दिए हैं। ये सभी नए गांव लगभग 100 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैले हुए दिखा रहे हैं। भूटान (Bhutan) का ये विवादित भूमि (disputed land) डोकलाम पठार (doklam plateau) के पास स्थित है, जहां साल 2017 में भारत और चीन (India China Army) के सैनिकों के बीच आमना-सामना हुआ था।

चीनी सैन्य विकास (Chinese military development) पर एक वैश्विक शोधकर्ता @detresfa ने सैटेलाइट तस्वीरें (satellite photos) जारी की हैं। जिससे ये खुलासा हुआ है। जारी की गई तस्वीरों में चीन के द्वारा बसाए गए चीनी गांवों (Chinese villages) स्पष्ट तौर पर देखे जा रहा है। आपको जानकारी के लिए बता दें कि भूटान और चीन (Bhutan And China) के बीच इस जमीन को लेकर पुराना विवाद (old dispute) है। दोनों देशों का दावा है कि ये जमीन (Land) उनकी है।

ऐसा कहा जा रहा है कि चीन के द्वारा भूटान की जमीन पर नया निर्माण भारत (India) के लिए चिंताजनक है। क्योंकि, भारत ने ऐतिहासिक रूप से भूटान को अपनी विदेश संबंध नीति (foreign relations policy) पर सलाह दी है और अपने सशस्त्र बलों (Armed Forces) को प्रशिक्षित करने के लिए भी कहा है।

गौरतलब है कि भूटान को अपनी भूमि की सीमाओं (Borders) पर फिर से बातचीत करने के लिए लगातार चीनी (China) दबाव का सामना करना पड़ा है। इस समझौते (agreement) की रूपरेखा को पूरी तरह से कभी भी स्पष्ट नहीं किया गया है और यह देखा जाना बाकी है कि क्या इसकी धरती पर इन नए गांवों का निर्माण इस समझौते का हिस्सा है।

Next Story