Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बुल्गारिया: बस में आग लगने से बच्चों समेत 46 लोगों की दर्दनाक मौत, केयर भवन में आग की दूसरी घटना में इतने बुजुर्गों की गई जान

गृह मंत्रालय में अग्नि सुरक्षा विभाग के प्रमुख निकोलाई निकोलोवी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा बस में आग लगने और क्रैश होने की वजह से कम से कम 46 लोगों की मौत हो गई।

बुल्गारिया: बस में आग लगने से बच्चों समेत 46 लोगों की दर्दनाक मौत, केयर भवन में आग की दूसरी घटना में इतने बुजुर्गों की गई जान
X

बुल्गारिया (Bulgaria) के पश्चिमी हिस्से में आज सुबह हाइवे पर उत्तरी मैसेडोनियाई नंबर प्लेट वाली (North Macedonian plates) एक बस में अचनाक भीषण आग गई। इस घटना में बच्चों समेत 46 लोगों की मौत की खबर सामने आई है।

जबकि आग की चपेट में झुलसने वाले सात लोगों को इलाज के लिए राजधानी सोफिया (Sofia) के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां पर इनका हालत नाजुक बनी हुई है। आशंका जताई जा रही है कि मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह हादसा राजधानी सोफिया से करीब 45 किमी पश्चिम में स्ट्रुमा हाईवे पर हादसा हुआ है हादसे के समय बस में कुल 53 यात्री सवार थे।

गृह मंत्रालय में अग्नि सुरक्षा विभाग के प्रमुख निकोलाई निकोलोवी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा बस में आग लगने और क्रैश होने की वजह से कम से कम 46 लोगों की मौत हो गई। मरने वाले लोगों में नॉर्थ मैसेडोनिया के लोग भी शामिल हैं।

स्थानीय समय के मुताबिक बस में आग तड़के सुबह लगभग 2 बजे लगी। नॉर्थ मैसेडोनिया के दूतावास के एक अधिकारी ने कहा कि घटना का शिकार हुए अधिकतर पीड़ित नॉर्थ मैसेडोनिया के नागरिक हैं। आग किस वजह से लगी है इसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है। फिलहाल घटना वाली जगह को सील कर दिया गया है। नॉर्थ मैसेडोनिया के पीएम ने इस घटना पर गहरा दूख व्यक्त किया है और इसे बहुत बड़ी त्रासदी बताया है।

बुल्गारिया में नर्सिंग होम में आग लगने से 9 लोगों की मौत

जानकारी के लिए आपको बता दें कि बीते सोमवार को पूर्वी बुल्गारिया के एक नर्सिंग होम में आग लगने से नौ बुजुर्गों की मौत हो गई थी। दमकल विभाग के प्रमुख तिहोमिर तोतेव ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा था कि रोयाक गांव के एक पुराने स्कूल को बुजुर्गों के लिए केयर भवन में बदला गया था। आग लगने के समय भवन में मौजूग 58 लोगों में से नौ लोगों की जान चली गई।

Next Story