Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नाबालिग से पाप: टीचर ने डेटिंग एप के जरिए स्टूडेंट के साथ बनाए अवैध संबंध, कोर्ट ने सुनाई सजा और नौकरी से धोया हाथ

ब्रिटेन में 15 साल के बच्चे के साथ टीचर ने एक डेटिंग एप के जरिए मुलाकात की और दोनों की पहचान एप से ही हुई थी।

नाबालिग से पाप: टीचर ने डेटिंग एप के जरिए स्टूडेंट के साथ बनाए अवैध संबंध, कोर्ट ने सुनाई सजा और नौकरी से धोया हाथ
X

नाबालिग से पाप: टीचर ने डेटिंग एप के जरिए स्टूडेंट के साथ बनाए अवैध संबंध, कोर्ट ने सुनाई सजा और नौकरी से धोया हाथ

ब्रिटेन में एक कोर्ट ने दोषी टीचर को एक छात्र के साथ जबरन संबंध बनाने पर पांच साल की सजा सुनाई है और इतना ही नहीं टीचर के दोषी पाए जाने पर स्कूल प्रशासन ने भी कार्रवाई करते हुए नौकरी से बाहर निकाल दिया है। दोनों की मुलाकात एक डेटिंग एप के जरिए हुई थी।

डेटिंग एप के जरिए जबरन बनाए टीचर ने संबंध

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन में 15 साल के बच्चे के साथ टीचर ने एक डेटिंग एप के जरिए मुलाकात की और दोनों की पहचान एप से ही हुई थी। पीड़ित लड़का किसी दूसरे स्कूल का छात्र है। पीड़ित छात्र के वकील ने कोर्ट को बताया कि टीचर एक आईटी शिक्षक था। जो पहली बार ग्रिंडर डेटिंग एप के जरिए छात्र के संपर्क में आया था। 40 साल की टीचर ने 15 साल के छात्र को जून और नवंबर 2019 के बीच कई बार मिलने के लिए बुलाया और उसे खूब प्रेरित करता रहा।

महंगा गिफ्ट देने के बहाने बुलाया होटल

जानकारी के लिए बता दें कि टीचर नकली नाम से छात्र के साथ डेटिंग कर रहा था। डेटिंग के दौरान टीचर ने छात्र को बताया था कि वो दोनों के बीच के संबंधों के बारे में किसी को कुछ नहीं बताएगा। क्योंकि टीचर का अन्य महिला के साथ चक्कर चल रहा था। स्कूल टीचर ने जन्मदिन पर गिफ्ट के बहाने होटल में बुलाया था। इसी दौरान उसने उसके साथ सेक्स किया। किसी तरह छात्र होटल से भागने में कामयाब हुआ और उसने सारी आपबीती पुलिस को बता दी। इसके बाद पुलिस ने आरोप को गिरफ्तार कर लिया।

कोर्ट ने टीचर को माना दोषी

कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए कहा कि आरोपी क्रेग स्लेटर के डिलीट किए गए व्हाट्सऐप मैसेज को पढ़ने के बाद यह तय है कि उसे पीड़ित की वास्तविक उम्र के बारे में पता था। क्योंकि किसी को भी रजिस्टर करने के लिए अपनी वास्तविक उम्र बतानी होती है। कोर्ट ने पीड़ित बच्चे का नाम सार्वजनिक करने से मना कर दिया और आरोपी टीचर को दोषी मानते हुए 5 साल की सजा सुनाई है।

Next Story