Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमेरिका के अलावा इन देशों ने किया अफगानिस्तान को आर्थिक मदद देने का ऐलान

लिंडा थॉम्पसन-ग्रीनफील्ड (inda Thompson-Greenfield) ने कहा है कि वर्तमान समय में अफगानिस्तान (Afghanistan) की स्थिति बहुत ज्यादा गंभीर है।

अमेरिका के अलावा इन देशों ने किया अफगानिस्तान को आर्थिक मदद देने का ऐलान
X

अमेरिका ने तालिबान (Taliban) की अंतरिम सरकार के गठन के बाद अफगानिस्तान के लोगों की आर्थिक मदद करने का फैसला लिया है। अमेरिका अफगानिस्तान को लगभग 470 करोड़ रुपये की मानवीय सहायता (humanitarian assistance) देने के लिए तैयार है। इस बात की जानकारी संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत (US Ambassador) लिंडा थॉम्पसन-ग्रीनफील्ड (Linda Thompson-Greenfield) ने दी है।

लिंडा थॉम्पसन-ग्रीनफील्ड (inda Thompson-Greenfield) ने कहा है कि वर्तमान समय में अफगानिस्तान (Afghanistan) की स्थिति बहुत ज्यादा गंभीर है। ऐसी स्थिति में अमेरिका 64 मिलियन डॉलर यानी 470 करोड़ रुपये की मदद देने का वादा करता है। लिंडा थॉम्पसन-ग्रीनफील्ड ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि मुझे यह ऐलान करते हुए गर्व हो रहा है कि अमेरिका (America) अफगानिस्तान के लोगों के लिए नई मानवीय सहायता के रूप में 64 मिलियन डॉलर दे रहा है। यह नया वित्त पोषण यूनाइटेड नेशन और अंतरराष्ट्रीय एनजीओ (United Nations and International NGOs) के काम का समर्थन करेगा। हम अन्य देशों से भी एकजुटता दिखाने का आग्रह करते हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका से पहले संयुक्त राष्ट्र प्रमुख, न्यूजीलैंड (New Zealand), चीन (China) और जर्मनी (Germany) भी अफगानिस्तान को आर्थिक मदद देने की घोषणा कर चुके हैं। जानकारी के लिए आपको बता दें कि बीते सोमवार को संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतेरेस ने अफगानिस्तान में मानवीय अभियान का समर्थन करने के लिए 2 करोड़ अमेरिकी डॉलर के आवंटन का ऐलान किया है। युद्धग्रस्त देश अफगानिस्तान में 'वास्तविक' अधिकारियों ने जनता तक मदद पहुंचाने के लिए सहयोग करने का 'वादा' किया है।

चीन ने पहले ही 200 मिलियन यूआन की अफगानिस्तान के लोगों को आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है। वहीं न्यूजीलैंड के विदेश मंत्री नानैया महुता ने अफगानिस्तान को 3 मिलियन डॉलर देने की घोषणा की है।

Next Story