Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमेरिका और फ्रांस ने PM मोदी की जमकर की तारीफ, पुतिन को पढ़ाया था शांति का पाठ

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की हुई बातचीत के दौरान उनके (पीएम मोदी) द्वारा दिए गए बयान को लेकर प्रधानमंत्री मोदी की दुनियाभर में जानकर तारीफ हो रही है। जिसकी अमेरिका (America) और फ्रांस (France) दोनों ने उनके बयान की सराहना की है।

अमेरिका और फ्रांस ने PM मोदी की जमकर की तारीफ, पुतिन को पढ़ाया था शांति का पाठ
X

पिछले हफ्ते 15 और 16 सितंबर को उज्बेकिस्तान के समरकंद में आयोजित शंघाई सहयोग संगठन (SCO) शिखर सम्मेलन में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (President Vladimir Putin) के साथ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की हुई बातचीत के दौरान उनके (पीएम मोदी) द्वारा दिए गए बयान को लेकर प्रधानमंत्री मोदी की दुनियाभर में जानकर तारीफ हो रही है।

अमेरिका (America) और फ्रांस (France) दोनों ने उनके बयान की सराहना की है। जहां अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन (National Security Advisor Jake Sullivan) ने पीएम मोदी (PM Modi) की तारीफ करते हुए कहा है कि समरकंद में पीएम मोदी ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन से जो कहा वह पूरी तरह सही था। सुलिवन ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने जो कहा वह इस सिद्धांत पर आधारित बयान है कि वह (मोदी) सही और उचित मानते हैं और अमेरिका इसका स्वागत करता है।

सुलिवन ने कहा कि भारतीय नेता की टिप्पणी सराहनीय है, जिससे रूस (Russian) को संदेश दिया गया है कि अब युद्ध समाप्त होने का समय आ गया है। वहीं फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (President Emmanuel Macron) ने भी UNGA में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की। इमैनुएल मैक्रों ने UNGA में कहा कि पीएम मोदी ने समरकंद में सही कहा था कि यह युद्ध का समय नहीं है।

पश्चिम से बदला लेने के लिए या पूर्व के खिलाफ पश्चिम का विरोध करने के लिए नहीं। यह हमारे जैसे संप्रभु राष्ट्रों के सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करने का समय है। दरअसल पिछले हफ्ते शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (एससीओ) समिट में तमाम नेताओं ने शिरकत की थी। उज्बेकिस्तान के समरकंद शहर में पुतिन से मुलाकात के दौरान मोदी ने रूसी राष्ट्रपति से कहा था, 'आज का युग युद्ध का नहीं है और मैंने आपसे फोन पर बात कर चुका हूँ।

इस पर पुतिन ने मोदी से कहा कि वह यूक्रेन युद्ध को लेकर भारत (India) की चिंताओं से वाकिफ हैं और रूस इसे जल्द से जल्द खत्म करने की हर संभव कोशिश करेगा। जिसके बाद अब पश्चिमी देश पीएम मोदी के इस रुख से पीएम मोदी की तारीफ कर रहे हैं।

और पढ़ें
Next Story