Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिंदा है अल-कायदा प्रमुख अल-जवाहिरी! यहां पर है छिपे होने की आशंका

जहां वे सभी भारतीय उपमहाद्वीप में एक्टिव अल-कायदा से जुड़े हुए है और उसके साथ मिलकर काम कर रहे हैं। अल-कायदा प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी, अफगानिस्तान और पाकिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्र में कहीं बताय़ा जा रहा है।

जिंदा है अल-कायदा प्रमुख अल-जवाहिरी! यहां पर है छिपे होने की आशंका
X

दुनिया का सबसे बड़े आतंकी संगठन अल-कायदा का प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी अभी भी जिंदा है। इस तरह की खबर सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अयमान अल-जवाहिरी के पाकिस्तानी सीमा इलाके में छिपा होने की खबर है। इस बात की आशंका यूएन ने जताई है। संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के अनुसार, आतंकी संगठन अल-कायदा से जुड़े लोगों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा अफगानिस्तान और पाकिस्तान बॉर्डर क्षेत्र में रह रहा है। जिसमें अल-कायदा प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी भी शामिल है। जानकारी के मुताबिक, जो शायद जिंदा है, लेकिन वो अभी बहुत कमजोर हालत में है। बीते शुक्रवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, बड़ी संख्या में अल-कायदा के आतंकी और तालिबान से जुड़े अन्य विदेशी चरमपंथी तत्व अफगानिस्तान के अलग-अलग हिस्सों में रह रहे हैं।

ख़बरों से मिली जानकारी के मुताबिक, यूएन की एनालिटिकल सपोर्ट की 12वीं रिपोर्ट और प्रतिबंध निगरानी दल के सदस्य राज्यों का कहना है कि अल-कायदा नेतृत्व का एक महत्वपूर्ण हिस्सा अफगानिस्तान और पाकिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्र में स्थित है। जहां वे सभी भारतीय उपमहाद्वीप में एक्टिव अल-कायदा से जुड़े हुए है और उसके साथ मिलकर काम कर रहे हैं। अल-कायदा प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी , अफगानिस्तान और पाकिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्र में कहीं बताय़ा जा रहा है। बता दें कि खराब स्वास्थ्य के कारण उसकी मौत की पिछली रिपोर्टों की पुष्टि नहीं की गई थी जिसमें कहा गया था कि अफगानिस्तान में अल-जवाहिरी की मौत हो गई है। हालांकि, अल-कायदा चीफ के कथित मौत की पुष्टि कभी नहीं हुई।

अल जवाहिरी ने 1988 में अल-कायदा की स्थापना करने में ओसामा बिन-लादेन की मदद की थी और उसने अफगानिस्तान और पाकिस्तान में संगठन की गतिविधियों का नेतृत्व किया था। बाद में लादेन की मौत के बाद जवाहिरी अल-कायदा का प्रमुख बन गया।

अल-जवाहिरी अमेरिका की आतंकवादियों की 'मोस्ट वांटेड' सूची में है। अमेरिकी सरकार ने उस पर अपने नागरिकों की हत्या करने का आरोप लगाया है, जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका के बाहर अमेरिकी नागरिकों की हत्या की साजिश भी शामिल है। अमेरिकी सरकार ने अयमान अल-जवाहिरी पर ढाई करोड़ डॉलर का इनाम रखा था।

Next Story