Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अफगानिस्‍तान में चल रहे गृहयुद्ध की आंच राष्ट्रपति निवास तक पहुंची, ईद की नमाज के दौरान दागे गए कई रॉकेट

टोलो न्‍यूज के अनुसार, यह रॉकेट हमला नमाज शुरू होने के ठीक बाद हुआ। ये रॉकेट काबुल के परवान-ए-से जिले से फायर किए गए थे जो उत्‍तर की तरफ स्थित है। ये रॉकेट काबुल के बाग-ए-अली मरदान और चमन-ए-होजोरी इलाके में गिरे। जिस समय यह रॉकेट हमला हुआ था, उस समय अफगान राष्‍ट्रपति अशरफ घनी का महल में ही मौजदू थी।

अफगानिस्‍तान में चल रहे गृहयुद्ध की आंच राष्ट्रपति निवास तक पहुंची, ईद की नमाज के दौरान दागे गए कई रॉकेट
X

अफगानिस्‍तान में 'गृहयुद्ध' चल रहा है। अब इस गृह युद्ध की आंच काबुल में राष्‍ट्रपति के निवास तक पहुंच गई है। दुनिया के कई देशों में आज ईद उल अजहा का त्यौहार मनाया जा रहा है। काबुल में राष्‍ट्रपति भवन में आज ईद की नमाज के दौरान अचानक रॉकेट से हमला किया गया है। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

वायरल वीडियो में दिखाया गया है कि सैकड़ों की संख्या में लोग राष्ट्रपति भवन में नमाज अता कर रहे हैं और अचानक एक के बाद एक कई रॉकेट विस्फोट हुए। हालांकि, इस हमले में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं आयी है। सूत्रों के मुताबिक, रॉकेट से हमला तालिबान की तरफ से क्या गया है। अब वे अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के नजदीक पहुंच गए हैं।

टोलो न्‍यूज के अनुसार, यह रॉकेट हमला नमाज शुरू होने के ठीक बाद हुआ। ये रॉकेट काबुल के परवान-ए-से जिले से फायर किए गए थे जो उत्‍तर की तरफ स्थित है। ये रॉकेट काबुल के बाग-ए-अली मरदान और चमन-ए-होजोरी इलाके में गिरे। जिस समय यह रॉकेट हमला हुआ था, उस समय अफगान राष्‍ट्रपति अशरफ घनी का महल में ही मौजदू थी।

जानकरी के अनुसार, अफगानिस्तान के राष्‍ट्रपति अशरफ गनी ने कहा है कि अफगान लोगों को यह साबित करना होगा कि वे एकजुट हैं। इसके अलावा राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि तालिबान ने इन हमलों के जरिए दिखा दिया है कि वह शांति नहीं चाहता है। अब हम इसके आधार पर फैसले करेंगे। लोगों के दृढ़ इच्‍छाशक्ति से अगले 3 से 6 महीने में स्थितियां सुधरेंगी।

Next Story