Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस्लामाबाद पावर शो में इमरान खान ने विपक्ष पर साधा निशाना, बोले- पिछले 30 सालों से पाकिस्तान को लूट रहे तीन 'चूहे'

पीएम इमरान खान ने आगे कहा कि पिछले 30 साल से इन्होंने मिलकर देश का खून चूसा। उन्होंने देश के बाहर लाखों डॉलर की संपत्ति जमा की है और उनके पास अपतटीय अकाउंट हैं।

इस्लामाबाद पावर शो में इमरान खान ने विपक्ष पर साधा निशाना, बोले- पिछले 30 सालों से पाकिस्तान को लूट रहे तीन चूहे
X

पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pm Imran Khan) ने रविवार को अविश्वास प्रस्ताव (no-confidence motion) से पहले इस्लामाबाद (Islamabad) में एक विशाल रैली को संबोधित करते हुए विपक्षी दलों पर तीखा हमला बोला है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पीएम इमरान खान ने इशारों-इशारों में बिलावल भुट्टो, मरियम नवाज और मौलाना फजल-उर-रहमान पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले 30 साल से देश को तीन चूहे लूट रहे हैं।

पीएम इमरान खान ने आगे कहा कि पिछले 30 साल से इन्होंने मिलकर देश का खून चूसा। उन्होंने देश के बाहर लाखों डॉलर की संपत्ति जमा की है और उनके पास अपतटीय अकाउंट हैं। यह सारा ड्रामा एनआरओ (राष्ट्रीय सुलह अध्यादेश) की खातिर हो रहा है। वे चाहते हैं कि इमरान खान उनके सामने घुटने टेक दें। जैसा कि (पाकिस्तान के पूर्व सेना प्रमुख) जनरल परवेज मुशर्रफ ने किया था।

पहले दिन से ही वे (विपक्ष) मुझे ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहे हैं। जब भी मौका मिलता है हुकूमत को गिराने का प्रयास करते हैं। जनरल मुशर्रफ ने जो इस कौम पर जुल्म किया। अपनी कुर्सी बचाने के लिए उसने इस मुल्क के चोरों को राष्ट्रीय सुलह अध्यादेश दिया। आज जो हम बोझ उठा रहे हैं, हम जो इनके कर्जों की किस्तें अदा कर रहे हैं, वो केवल जनरल मुशर्रफ के कामों की वजह से। इमरान खान की हुकूमत जाती है जाए, जान जाती है जाए, लेकिन इमरान खान इन्हें कभी माफ नहीं करेगा।

हम जब 5 वर्ष पूरे करेंगे, तब पूरा देश देखेगा कि किसी सरकार ने पाकिस्तान को इतनी तेजी से नहीं बढ़ाया जितना की इमरान सरकार ने बढ़ाया है। मैं विकास के लिए सियासत में आया हूं। यह पाकिस्तान एक नजरिए से बना है, लेकिन यहां लोगों को खरीदने का प्रयास हो रहा है। बचा दें कि पाक पीएम इमरान खान ने अविश्वास प्रस्ताव पर वोट के बदले उन्हें रिश्वत देने के विपक्ष के प्रस्तावों को ठुकराने के लिए पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के सांसदों की सराहना की। साथ ही कहा कि मुझे आप सभी पर गर्व है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि पूर्व क्रिकेटर और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान एक गठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं। इमरान खान के सहयोगी दल उनसे किनारा कर रहे हैं। जबकि उनकी पार्टी के लगभग 24 सांसद उनके खिलाफ बगावत कर रहे हैं। इमरान खान की पार्टी के 342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में 155 सदस्य हैं। और सरकार में बने रहने के लिए कम से कम 172 सांसदों के समर्थन की जरूरत होगी।

और पढ़ें
Next Story