Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

खुशखबरी: टिकट बुकिंग करने पर मिलेगा 50% डिस्‍काउंट, जानिए ऑफर!

पश्चिमी रेलवे की रिपोर्ट के मुताबिक फ्लैक्‍सी फेयर की वजह से इस जोन में जनवरी से अक्‍टूबर 2017 के बीच लगभग 1.34 लाख पैसेंजर्स घटे हैं।

खुशखबरी: टिकट बुकिंग करने पर मिलेगा 50% डिस्‍काउंट, जानिए ऑफर!

भारतीय रेलवे ट्रेन में सफर करने वालो को नया तोहफा देने जा रहा है। दरअसल सीटें खाली रहने पर भारतीय रेलवे यात्रियों को डिस्‍काउंट ऑफर देगा। यह डिस्‍काउंट 50 प्रतिशत तक पहुंच सकता है। रिजर्वेशन चार्ट बनने के बाद भी यात्री डिस्‍काउंट पाकर सस्ते में टिकट बुक करा सकते हैं।

भारतीय रेलवे द्वारा तैयार किए जा रहे डायनेमिक प्राइसिंग मॉडल में इस तरह के प्रपोजल मिल रहे हैं। वहीं, रेलवे की उच्चस्तरीय कमेटी के पास ट्रेनों को तीन कैटेगरी में बांटने का प्रपोजल भी आया है।

यात्री घटे, रेवेन्यू बढ़ा

बता दें कि पिछले वर्ष रेलवे ने कुछ प्रीमियम ट्रेनों में फ्लैक्‍सी फेयर मॉडल शुरू किया था। इसके तहत पीक ऑवर में ट्रेनों का किराया बढ़ जाता है। इससे रेलवे की कमाई तो बढ़ी लेकिन यात्रियों की संख्या कम हो गई।

यह भी पढ़ें- बीएचयू में फिर भड़की हिंसा, छात्र नेता की गिरफ्तारी पर तोड़फोड़-आगजनी

पश्चिमी रेलवे की एक रिपोर्ट बताती है कि फ्लैक्‍सी फेयर की वजह से इस जोन में जनवरी से अक्‍टूबर 2017 के बीच लगभग 1.34 लाख पैसेंजर्स घटे, हालांकि इस दौरान वेस्‍टर्न रेलवे ने लगभग 54 करोड़ रुपए ज्यादा रेवेन्यू हासिल किया। इस दौरान सेकेंण्ड एसी का किराया हवाई जहाज के किराए से ज्यादा हो गया।

हवाई यात्रा की तरह होगा किराया

कुछ समय पहले भारतीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा था कि अब रेलवे का किराया हवाई यात्रा की तरह डायनेमिक प्राइसिंग मॉडल से तय होगा।

लेकिन डायनेमिक प्राइसिंग मॉडल के तहत किराया बढ़ेगा भी और घटेगा भी, यानी सीटें खाली रहने पर किराए में डिस्‍काउंट दिया जाएगा। इसके लिए एक हार्इ उच्चस्तरीय कमेटी बनाई गई है।

क्‍या है प्रपोजल?

रेलवे की कमेटी के पास प्रस्ताव आया है कि ट्रेनों को यात्री सुविधाओं, समय की पाबंदी और कैटरिंग सेवाओं के आधार पर तीन श्रेणियों में बांटा जाएगा।

जिसमें सुपर प्रीमियम ट्रेन, प्रीमियम ट्रेन और नॉन प्रीमियम ट्रेन होंगी। बता दें कि इसके अलावा पूरे वर्ष को छुट्टियों, त्‍योहारों, मैरिज और परीक्षाओं के सीजन के आधार पर पीक, नॉन पीक और स्‍लैक सीजन में बांटा जाएगा।

यह भी पढ़ें- जायरा वसीम छेड़छाड़ मामला: आरोपी को 25 हजार में मिली जमानत, ये है पूरा मामला

पीक सीजन में सुपर प्रीमियम ट्रेनों का किराया ज्यादा बढ़ाया जाएगा, जबकि नॉन पीक सीजन में थोड़ा और स्‍लैक सीजन में छूट दी जाएगी।

इसी तरह पीक सीजन में प्रीमियम ट्रेनों का किराया थोड़ा बहुत ही बढ़ाया जाएगा, लेकिन नॉन-पीक और स्‍लैक सीजन में बेस रेट पर या किराए में छूट दी जाएगी। नॉन प्रीमियम ट्रेन में भी पीक सीजन में थोड़ा-बहुत किराया बढ़ाया जाएगा, जबकि नॉन-पीक में भारी छूट दी जा सकती है।

Next Story
Share it
Top