Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गांधी पर केन्द्रित झांकी देखने के बाद भावुक हुए भारतीय मूल के दक्षिणी अफ्रीकी

भारतीय मूल के दक्षिण अफ्रीकी नागरिकों का एक समूह शनिवार को राजपथ पर रेलवे की झांकी में मोहनदास करमचंद गांधी के महात्मा बनने का सफर देखने के बाद भावुक हो गया।

गांधी पर केन्द्रित झांकी देखने के बाद भावुक हुए भारतीय मूल के दक्षिणी अफ्रीकी
X

भारतीय मूल के दक्षिण अफ्रीकी नागरिकों का एक समूह शनिवार को राजपथ पर रेलवे की झांकी में मोहनदास करमचंद गांधी के महात्मा बनने का सफर देखने के बाद भावुक हो गया। यह समूह यहां गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने आया था।

क्वाज़ुलु-नटाल प्रांत की रहने वाली याशिका सिंह ने कहा कि ‘मोहन से महात्मा' नाम की झांकी में चित्रित पीटरमैरिट्जबर्ग ट्रेन की घटना ने हमें भावनात्मक रूप से झकझोर दिया। झांकी में स्टीम-इंजन ट्रेन को पहली गाड़ी के साथ चित्रित किया गया था जिसमें पीटरमैरिट्जबर्ग की 1893 की घटना को दर्शाया गया था। इस घटना में एक युवा बैरिस्टर गांधी को रंगभेद का सामना करना पड़ा था और उन्हें गाड़ी से फेंक दिया गया था।
उन्होंने ‘पीटीआई-भाषा' से कहा, ‘‘मैं भारतीय मूल की चौथी पीढ़ी की दक्षिण अफ्रीकी हूं और मैं अपने देश से प्यार करती हूं लेकिन हम भारत के साथ गहरे जुड़ाव की भावना महसूस करते हैं और गांधी तथा मंडेला मजबूत संबंध प्रदान करते हैं। इसलिए इस झांकी ने हमें वास्तव में बहुत प्रभावित किया।'
एस्टकोर्ट में रहनी वाले और मीडिया क्षेत्र में काम करने वाली सिंह ने कहा कि भारतीय मूल के पत्रकारों का एक समूह दक्षिण अफ्रीका के विभिन्न हिस्सों से दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा की यात्रा को कवर करने आया है।
डर्बन की रहने वाली भारतीय मूल की एक अन्य दक्षिण अफ्रीकी सलमा पटेल ने भी याशिका की तरह ही अपनी भावनाओं को व्यक्त किया। पटेल एक रेडिया चैनल में काम करती है।
उन्होंने कहा, ‘‘दक्षिण अफ्रीका हमारा घर है। लेकिन, हम भारत के साथ जुड़ाव महसूस करते हैं और, हम भारत के गणतंत्र दिवस समारोह में भाग लेने से बहुत खुश है।'
याशिका ने याद किया कि पिछले साल पीटरमैरिट्जबर्ग स्टेशन की घटना के 125 साल पूरे हुए थे और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दक्षिण अफ्रीका की यात्रा की थी। इस साल गणतंत्र दिवस की थीम महात्मा गांधी की 150वीं जयंती से जुड़ी थी और कई राज्यों की झाकियां राष्ट्रपिता पर केन्द्रित रहीं। दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति रामफोसा इस साल गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि थे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story