Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

''इंडियन ऑयल 2018 को मनाएगी विश्वास का वर्ष''- ये है वजह

देश की सबसे बड़ी ईंधन कंपनी इंडियन ऑयल कारपोरेशन ''आईओसी'' ने 2018 को ‘विश्वास का वर्ष’ के तौर पर अपनाया है।

देश की सबसे बड़ी ईंधन कंपनी इंडियन ऑयल कारपोरेशन 'आईओसी' ने 2018 को ‘विश्वास का वर्ष’ के तौर पर अपनाया है। इसकी वजह कंपनी का प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना जैसे कार्यक्रम में अच्छी आपूर्ति क्षमता के जरिए विश्वास अर्जित करना और भारत चरण-6 ईंधन मानकों को समय से पहले लागू करने का निर्णय है।

यह भी पढ़ें- तीन तलाक पर संसद में घमासान, मुश्किल में सरकार- जानिए किसने क्या कहा

हर दूसरा भारतीय कंपनी का ग्राहक है। वाहन ईंधन और रसोई गैस के बाजार में आधी करीब इसी कंपनी की है। कंपनी ने एक बयान में कहा, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रोज बदलाव का निर्णय और भारत चरण-6 मानक की ईंधन बिक्री को दिल्ली में तय समय से दो साल पहले एक अप्रैल 2018 से लागू करने का निर्णय दिखाता है कि नीति निर्माताओं को इंडियन ऑयल की आपूर्ति क्षमता पर कितना भरोसा है।

यह भी पढ़ें- ‘कुछ रोहिंग्याओं ने आधार, पैन कार्ड हासिल किए'

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरूआत मई 2016 में हुई। इसके तहत गरीब महिलाओं को मुफ्त में रसोई गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया जाता है। आईओसी के चेयरमैन संजीव सिंह ने कहा कि 2018 को ‘विश्वास का वर्ष’ के रूप में मनाना अपनी क्षमता तथा और बेहतर काम के जरिये ग्राहकों एवं संबंधित पक्षों के बीच कंपनी पर भरोसे को बनाये रखने का एक अनूठा अवसर है। इसी तरह कंपनी ने 2016 को ‘मूल सिद्धांतों का वर्ष’ और 2017 को ‘नवोन्मेष और तकनीक का वर्ष’ के तौर पर मनाया था।

Share it
Top