Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पहली बार लालकिले पर 15 अगस्त नहीं बल्कि इस दिन फहराया गया था तिरंगा

16 अगस्त 1947 में सुबह समाचारपत्रों की सबसे प्रमुख खबर यही थी की पंडित नेहरू आज लालकिले की प्राचीर पर ध्वजारोहण करेंगे ।

पहली बार लालकिले पर 15 अगस्त नहीं बल्कि इस दिन फहराया गया था तिरंगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देशवासियों को आजादी के 70 साल पूरे होने की बधाई देते हुए लाल किले की प्राचीर पर तिरंगा फहराया लेकिन कुछ ही लोगों को ये बात पता होगी की आजादी के बाद देश का तिरंगा पहली बार 16 अगस्त को मनाया गया था। देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू तिरंगा 16 अगस्त 1947 को सुबह साढ़े आठ बजे फहराया गया था।

भारतीय डाक विभाग द्वारा कई डाक संग्रहण प्रतियोगिताओं में निर्णायक की भूमिका अदा कर चुके कोलकाता निवासी शेखर चक्रवर्ती ने अपने संस्मरणों फ्लैग्स एंड स्टैम्प्स में लिखा है कि 15 अगस्त 1947 के दिन वायसराइल लॉज (अब राष्ट्रपति भवन ) में जब नई सरकार को शपथ दिलाई जा रही थी, तो लॉज के सेंट्रल डोम पर सुबह साढ़े दस बजे आजाद भारत का राष्ट्रीय ध्वज पहली बार फहराया गया था।
उन्होंने कहा कि 14-15 अगस्त की रात को स्वतंत्र भारत का राष्ट्रीय ध्वज कौंसिल हाउस के ऊपर फहराया गया जिसे आज संसद भवन कहा जाता है। 14 अगस्त 1947 की शाम वॉयसराय हाउस के ऊपर से यूनियन जैक को उतार लिया गया था। इस यूनियन जैक को आज इंग्लैंड के हैम्पशायर में नार्मन ऐबी ऑफ रोमसी में देखा जा सकता है।
गौरतलब है कि 16 अगस्त 1947 में सुबह समाचारपत्रों की सबसे प्रमुख खबर यही थी की पंडित नेहरू आज लालकिले की प्राचीर पर ध्वजारोहण करेंगे और राष्ट्र को संबोधित करेंगे।
Next Story
Share it
Top