Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारतीय अर्थव्यवस्था में 15 साल तक 10 फीसदी वृद्धि की उम्मीद

पनगढ़िया ने यहां ऊर्जा क्षेत्र के एक सम्मेलन में कहा, मुझे उम्मीद है कि भारतीय अर्थव्यवस्था अगले 15 साल तक 8-10 प्रतिशत की दर से वृद्धि दर्ज करेगी।

भारतीय अर्थव्यवस्था में 15 साल तक 10 फीसदी वृद्धि की उम्मीद

नई दिल्ली.भारतीय अर्थव्यवस्था के अगले 15 साल तक 8-10 प्रतिशत की दर वृद्धि दर्ज करने की उम्मीद है हालांकि डालर के हिसाब से घरेलू अर्थव्यवस्था का विस्तार और भी ज्यादा हो सकता है। यह बात सोमवार को नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया ने कही।

पनगढ़िया ने यहां ऊर्जा क्षेत्र के एक सम्मेलन में कहा, मुझे उम्मीद है कि भारतीय अर्थव्यवस्था अगले 15 साल तक 8-10 प्रतिशत की दर से वृद्धि दर्ज करेगी। यदि अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर वास्तविक रूप से रुपए में 8-10 प्रतिशत रहेगी तो डालर के लिहाज से यह करीब 11-12 प्रतिशत रहेगी और इस तरह की वृद्धि से भारत 8,000 अरब डालर की अर्थव्यवस्था हो जाएगा जो फिलहाल 2,000 अरब डालर के बराबर है।

देश में 28 करोड़ लोगों के पास बिजली कनेक्शन नहीं

वित्त मंत्रालय ने आर्थिक समीक्षा में चालू वित्त वर्ष के लिए 8-8.5 प्रतिशत और आगामी वर्षों में दहाई अंक की वृद्धि का अनुमान जताया है। नीति आयोग के प्रमुख ने कहा कि पूर्व राजग सरकार के दौरान देश की अर्थव्यवस्था ने आठ प्रतिशत तक की वृद्धि दर्ज की और यह लंबे समय तक बरकरार रही।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय के अग्रिम अनुमानों के मुताबिक भारत की आर्थिक वृद्धि 2014-15 में 7.4 प्रतिशत रहने का अनुमान है जबकि भारत के हालिया अनुमान के मुताबिक सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष के दौरान बढ़कर 7.8 प्रतिशत रहेगी। ऊर्जा क्षेत्र की चुनौतियों का हवाला देते हुए पनगढ़िया ने कहा कि देश के और संपन्न होने के साथ बिजली, कोयला, तेल की मांग बढ़ेगी।

3.5 लाख लोगों ने छोड़ी एलपीजी सब्सिडी: मोदी

भारत के और संपन्न होने के साथ-साथ ऊर्जा की मांग बढ़ेगी। मुझे उम्मीद है कि भारत की ऊर्जा की मांग आने वाले समय में तेजी से बढ़ेगी। भारत को तेजी से विस्तार की जरूरत है जिसकी एक साधारण वजह यह है कि एक चौथाई घरों में बिजली नहीं है। ऊर्जा की बढ़ती खपत पर्यावरण के लिहाज से बड़ी चुनौती पेश करेगी।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, 7.9 रहेगी भारत की जीडीपी वृद्धि दर -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top