Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अब सीमा पर दुश्मनों से लोहा लेंगी भारत की बेटियां, ये हैं सेना में शामिल होने की नियम-शर्तें

योजना के तहत सैन्य पुलिस में 800 महिलाओं को शामिल किया जाएगा।

अब सीमा पर दुश्मनों से लोहा लेंगी भारत की बेटियां, ये हैं सेना में शामिल होने की नियम-शर्तें

भारतीय सेना ने सैन्य पुलिस में महिलाओं को शामिल करने की योजना को अंतिम रूप दे दिया है। इस बाद की पुष्टि सेना के वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को की। फर्स्टपोस्ट के मुताबिक लफ्टिनेंट जनरल अश्विनी कुमार ने कहा कि यह योजना सेना में लिंग को लेकर भेदभाव को खत्म करने की ओर एक बड़ा कदम है।

कुमार ने बताया कि योजना के तहत सैन्य पुलिस में 800 महिलाओं को शामिल किया जाएगा। एक साल में 52 महिलाओं को सेना में शामिल किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि जून में पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में बिपिन रावत ने कहा था कि सेना महिला जवानों को शामिल करने पर बातचीत कर रही है।

रावत ने कहा था कि इसका आगाज महिलाओं को सैन्य पुलिस में शामिल करने से होगी। लेफ्टिनेंट कुमार ने बताया कि महिलाओं को शामिल करने के बाद लिंग आधारित अपराधों में कमी आएगी।
गौरतलब है कि फिलहाल महिलाओं को सेना के मेडिकल, लीगल, एजुकेश्नल, सिग्नल और इंजीनयरिंग विभागों में काम करने की अनुमति है। सैन्य पुलिस की भूमिका पुलिस शिविर और सैन्य प्रतिष्ठानों को चलाने की, जवानों द्वारा नियमों के पालन के देखरेख, शांति और युद्ध के दौरान सैनिकों की आवाजाही को बनाए रखने, युद्ध के कैदियों से निपटने और जब भी जरूरत हो नागरिक पुलिस की सहायता करने की होती है।
Next Story
Share it
Top