Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यासीन मलिक की पत्नी मुशाल ने लाहौर में कहा- इमरान सरकार को शिमला समझौते को रद्द कर देना चाहिए

अलगाववादी नेता यासीन मलिक की पत्नी मुशाल मलिक ने एक भड़काऊ बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान को भारत के साथ अपने सभी राजनयिक संबंध खत्म करना चाहिए। कश्मीर के लिए एकजूट होने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि इमरान खान सरकार को शिमला समझौते को भी रद्द करना चाहिए।

यासीन मलिक की पत्नी मुशाल ने लाहौर में कहा- इमरान सरकार  को शिमला समझौते को रद्द कर देना चाहिए
X

अलगाववादी नेता यासीन मलिक की पत्नी मुशाल मलिक

अलगाववादी नेता यासीन मलिक की पत्नी मुशाल मलिक ने एक भड़काऊ बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान को भारत के साथ अपने सभी राजनयिक संबंध खत्म करना चाहिए। कश्मीर के लिए एकजूट होने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि इमरान खान सरकार को शिमला समझौते को भी रद्द करना चाहिए। मुशाल ने लाहौर में धार्मिक राजनीतिक पार्टी जमात-ए-इस्लामी की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही है।

यासीन मालिक की पत्नी मुशाल मलिक आगे यहीं नहीं रूकीं उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान को कश्मीरियों पर हो रहे जुल्म के बारे में दुनिया को बताना चाहिए। वहीं, जमात-ए-इस्लामी के महासचिव अमीरुल अजीम ने कहा कि इमरान सरकार का कश्मीर प्रति प्रेम दिखावटी है। प्रधानमंत्री को अवैध रूप से हिरासत में लिए गए कश्मीरी नेताओं यासीन मलिक, सैयद अली शाह गिलानी, आसिया अंद्राबी और अन्य की रिहाई सुनिश्चित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय मंच पर इस मुद्दे को उठाना चाहिए। ताकि इन नेताओं की रिहाई हो सके।

अजीम ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार समूहों को चाहिए कि वे यासीन मलिक और उनकी बेटी के साथ बैठक करें। उन्होंने आरोप लगाया कि भारत सरकार लंबे समय से इसमें रुकावट डालती रही है। अजीम ने आगे कहा कि भारत सरकार ने डेढ़ साल से अधिक समय से एक फर्जी मामले में हुर्रियत नेता को डेथ सेल में रखा हुआ है। लिहाजा अब पाकिस्तान को चाहिए इस मुद्दे को पुरजोर तरीके से उठाए।

यासीन की पत्नी मुशाल मलिक ने पाकिस्तान के सभी दलों से राजनीतिक और आपसी मतभेदों को भुलाकर कश्मीर के मुद्दे पर एकजुटता दिखाने की अपील की। उन्होंने कहा कि कश्मीर दक्षिण एशिया और पाकिस्तान सरकार का एकमात्र महत्वपूर्ण मुद्दा है। राजनीतिक दलों को मानवता के खिलाफ भारतीय कार्रवाई को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उजागर करने के लिए अपनी ऊर्जा का इस्तेमाल करना चाहिए। पाकिस्तान को एक स्थायी कश्मीर नीति अपनाने की सख्त जरूरत है।

और पढ़ें
Next Story