Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

World Labour Day : विश्व मजदूर दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं देने के लिए ये हैं टॉप 10 मजदूर दिवस की शायरी

1 मई को अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस (Vishwa Mazdoor Diwas) के रूप में मनाया जाएगा और इस दिन सभी कामगारों और श्रमिकों के लिए अवकाश का दिन रहेगा। ऐसे में हम आपके लिए लाए हैं मजदूर दिवस की शायरी (Labour Day Shayari), तो विश्व मजदूर दिवस (World Labour Day) पर आप भी अपनों को भेजें टॉप 10 मजदूर दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं संदेश (Mazdoor Diwas ki Hardik Shubhkamnayen Sandesh)...

World Labour Day : विश्व मजदूर दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं देने के लिए ये हैं टॉप 10 मजदूर दिवस की शायरी
X

World Labour Day : 1 मई 1886 की है जब अमेरिका की सड़कों पर करीब 3 लाख मजदूर अपनी मांगों को लेकर सड़क पर उतर आए थे। मजदूरों की मांग थी कि उनसे केवल 8 घंटे का काम लिया जाए। हड़ताल के दौरान ही शिकागो की हेय बाजार में बम विस्फोट हुआ था। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए गोलियां भी दागीं। इस घटना में बहुत से मजदूर घायल हुए और कई मारे भी गए। इस घटना के बाद शहीद मजदूरों की याद में पहली बार शिकागो में 'मजदूर दिवस' (Labour Day) मनाया गया। इसके बाद 1889 में अंतर्राष्ट्रीय समाजवादी सम्मेलन की दूसरी बैठक में एक प्रस्ताव पारित किया गया जिसमें यह ऐलान किया गया कि हेमार्केट नरसंहार में मारे गए निर्दोष मजदूरों की याद में 1 मई को अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस (Vishwa Mazdoor Diwas) के रूप में मनाया जाएगा और इस दिन सभी कामगारों और श्रमिकों के लिए अवकाश का दिन रहेगा। ऐसे में हम आपके लिए लाए हैं मजदूर दिवस की शायरी (Labour Day Shayari), तो विश्व मजदूर दिवस (World Labour Day) पर आप भी अपनों को भेजें टॉप 10 मजदूर दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं संदेश (Mazdoor Diwas ki Hardik Shubhkamnayen Sandesh)...

Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

1. फ़रिश्ते आ कर उन के जिस्म पर ख़ुश्बू लगाते हैं

वो बच्चे रेल के डिब्बों में जो झाड़ू लगाते हैं

- मुनव्वर राना








Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

2. ख़ून मज़दूर का मिलता जो न तामीरों में

न हवेली न महल और न कोई घर होता

- हैदर अली जाफ़री



Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

3. कुचल कुचल के न फ़ुटपाथ को चलो इतना

यहाँ पे रात को मज़दूर ख़्वाब देखते हैं

- अहमद सलमान



Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

4. लोगों ने आराम किया और छुट्टी पूरी की

यकुम मई को भी मज़दूरों ने मज़दूरी क

- अफ़ज़ल ख़ान


Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

5. अजीब तेशा है मज़दूर का पसीना भी

पहाड़ काट के रास्ता कठिन निकालता है

- अंजुम बाराबंकवी



Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

6. पहले भी मयस्सर न था मज़दूर को छप्पर

अब नाम पे दीवार के इक टाट रहा है

- अनवर कैफ़ी



Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

7. दुनिया मेरी ज़िंदगी के दिन कम करती जाती है क्यूँ

ख़ून पसीना एक किया है ये मेरी मज़दूरी है

- मनमोहन तल्ख़



Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

8. बुलाते हैं हमें मेहनत-कशों के हाथ के छाले

चलो मुहताज के मुँह में निवाला रख दिया जाए

- रज़ा मौरान्वी



Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

9. अब उन की ख़्वाब-गाहों में कोई आवाज़ मत करना

बहुत थक-हार कर फ़ुटपाथ पर मज़दूर सोए हैं

- नफ़स अम्बालवी



Labour Day shayari / मजदूर दिवस शायरी

10. होने दो चराग़ाँ महलों में क्या हम को अगर दीवाली है

मज़दूर हैं हम मज़दूर हैं हम मज़दूर की दुनिया काली है

- जमील मज़हरी



और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story