Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खास रिपोर्ट: जानें कहां है अटल टनल और क्या है इसकी खासियतें, जिसका पीएम मोदी ने किया उद्घाटन

दुनिया की सबसे लंबी राजमार्ग सुरंग अटल टनल का आज पीएम मोदी के द्वारा उद्घाटन किया गया। इसके बाद पीएम मोदी सोलांग घाटी में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहेंगे।

अटल टनल कहां है और क्या है इसकी खासियत, जिसका पीएम मोदी ने किया उद्घाटन
X
पीएम मोदी ने किया उद्घाटन

पीएम मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश के रोहतांग में दुनिया की सबसे लंबी राजमार्ग सुरंग अटल टनल का उद्घाटन किया। इसका उद्घाटन लाहौल स्पीति के सीसू में किया गया। उद्घाटन के दौरान पीएम मोदी के साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे।

इसके बाद पीएम मोदी सोलांग घाटी में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद होंगे।

समुद्र तल से करीब तीन हजार मीटर की ऊंचाई पर बना अटल सुरंग

अटल टनल के निमार्ण से मनाली और लेह के बीच की दूरी 46 किलोमीटर कम हो जाएगी। साथ ही यात्रियों को यात्रा करने में चार से पांच घंटे की बचत होगी। अटल टनल दुनिया की सबसे लंबी राजमार्ग सुरंग है। इस सुरंग की लंबाई 9.02 किलोमीटर है।

बताया जा रहा है कि पहले बर्फबारी के चलते घाटी करीब छह महीने तक शेष हिस्से से कटी रहती थी। लेकिन अब यह सुरंग मनाली को वर्ष भर लाहौल स्पीति घाटी से जोड़े रखेगी। इस सुरंग को हिमालय के पीर पंजाल पर्वत श्रृंखला के बीच समुद्र तल से करीब तीन हजार मीटर की ऊंचाई पर बनाया गया है।

80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी वाहन

अटल सुरंग का दक्षिणी पोर्टल मनाली से 25 किलोमीटर की दूरी पर 3,060 मीटर की ऊंचाई पर बना है। जबकि उत्तरी पोर्टल 3,071 मीटर की ऊंचाई पर लाहौल घाटी में तेलिंग, सीसू गांव के नजदीक स्थित है। यह घोड़े की नाल के आकार वाली दो लेन वाली सुरंग में आठ मीटर की चौड़ी सड़क है।

जिसकी ऊंचाई 5.525 मीटर है। इस सुरंग को बनाने में 3,300 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। इस सुरंग के जरिए 3,000 कार और 1500 ट्रकों को आवागमन होगा। वाहनों अधिकतम गति 80 किलोमीटर प्रति घंटे होगी। बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने रोहतांग दर्रे के नीचे अटल सुरंग का निर्माण कराने का निर्णय लिया था।

सुरंग के दक्षिणी पोर्टल पर संपर्क मार्ग की आधारशिला 26 मई 2002 को रखी गई थी। अटल जी निधन हो जाने के बाद इस काम को पीएम मोदी ने पूरा किया। इसके बाद दिसंबर 2019 में इस सुरंग का नाम अटल सुरंग रखा गया।

अटल सुरंग की खासियत:

1. 3,300 करोड़ रुपये से बनी अटल सुरंग देश की रक्षा के नजरिए से बहुत महत्वपूर्ण

2. दुनिया की सबसे लंबी हाईवे सुरंग अटल सुरंग है।

3. अलट सुरंग की लंबाई 9.02 किलोमीटर है।

4. अटल सुरंग का दक्षिणी पोर्टल मनाली से 25 किमी की दूरी पर 3,060 मीटर की ऊंचाई पर बना है।

5. उत्तरी पोर्टल 3,071 मीटर की ऊंचाई पर लाहौल घाटी में तेलिंग, सीसू गांव के नजदीक बना हुआ है।

6. दो लेन वाली अटल सुरंग में 8 मीटर चौड़ी सड़क है।

7. अटल सुरंग की ऊंचाई 5.525 मीटर है।

8. अटल सुरंग के जरिए प्रतिदिन 3000 कारों और 1500 ट्रकों का आवागमन होगा।

9. अटल टनल के अंदर वाहनों की अधिकतम गति 80 किलोमीटर प्रति घंटे होगी।


Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story