Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जानें आखिर पीएम मोदी से मिलने को क्यों तैयार हुईं ममता दीदी, ये है मुख्य वजह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मुलाकात करेंगी। इसकी पुष्टि प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से हुई है। केंद्र और बांगाल के बीच प्रशासनिक मुद्दों पर चर्चा होगी। ममता ने पीएम मोदी से मिलने की मांग की थी।

जानें आखिर पीएम मोदी से मिलने को क्यों तैयार हुईं ममता दीदी, ये है मुख्य वजह
X
west bengal mamata banerjee pm modi rajiv kumar cbi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मुलाकात करेंगी। इसकी पुष्टि प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से हुई है। केंद्र और बांगाल के बीच प्रशासनिक मुद्दों पर चर्चा होगी। ममता ने पीएम मोदी से मिलने की मांग की थी।

इस एक मुद्दे पर मोदी से मिलने चाहती हैं ममता

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ममता बनर्जी मोदी से मिलना चाहती थीं। इसकी पीछे की वजह कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार पर शारदा चिट फंड केस में सीबीआई की पूछताछ के खिलाफ रक्षा की ढाल सुनिश्चित करने के लिए कोर्ट के लगाचार चक्कर लगा रहे हैं।

शारदा चिट फंड केस

ऐसे में ममता पीएम मोदी के साथ चल रहे कई मुद्दों पर बातचीत करने के लिए दिल्ली आ रही हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री अपने खास पुलिस अधिकारी की खातिर पीएण के साथ बातचीत करने के लिए तैयार हैं। राजीव कुमार पर शारदा चिट फंड केस में सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप है।

धरने पर बैठीं थी ममता बनर्जी

बता दें कि सीबीआई और कोर्ट के फैसले के दौरान ही इस साल फरवरी में ममता बनर्जी धरने पर बैठ गई थीं। जब सीबीआई की टीम ने राजीव कुमार के घर में घुसने की कोशिश की थी। लेकिन, अब वो मोदी से गुहार लगा रहे हैं।

इससे पहले ममता बनर्जी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि केंद्र-राज्य संयुक्त रूप से प्रायोजित कार्यक्रमों के तहत केंद्र के पश्चिम बंगाल बकाया होने का दावा करने के लिए उन्हें प्रधानमंत्री से मिलना था। पीएसयू के विनिवेश और कंपनियों के मुख्यालयों के ट्रांसफर, असम नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी।

केंद्र के इन कार्यक्रमों में नहीं शामिल हुई थीं ममता

उन्होंने राजनीतिक कारणों से नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह को जानबूझकर टाला था। इतना ही नहीं मुख्यमंत्रियों की बैठक और एनओयू अयोध्या के मुद्दे पर भी शामिल नहीं हुई थीं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story