Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष को लिखा पत्र, 26 मई तक राज्य में न भेजें श्रमिक स्पेशल ट्रेन

सचिव ने पत्र में लिखा है कि जिला प्रशासन इस वक्त चक्रवात तूफान अम्फान के कारण हुई तबाही से राहत और पुनर्वास के कार्यों में व्यस्त है।

पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष को लिखा पत्र, 26 मई तक राज्य में न भेजें श्रमिक स्पेशल ट्रेन

पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव ने आज रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष को पत्र लिखा है। सचिव ने पत्र में लिखा है कि जिला प्रशासन इस वक्त चक्रवात तूफान अम्फान के कारण हुई तबाही से राहत और पुनर्वास के कार्यों में व्यस्त है। यही वजह है कि अगले कुछ दिनों तक स्पेशल ट्रेनों को रिसीव करना संभव नहीं होगा। इसलिए आपसे अनुरोध है कि 26 मई तक पश्चिम बंगाल में कोई भी श्रमिक ट्रेन न भेजी जाए।

चक्रवाती तूफान ने ली 80 की जान

जानकारी के लिए आपको बता दें कि हाल ही में पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफान अम्फान ने तबाही मचाई थी। इस तबाही में 80 लोगों की जान चली गई है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री ने हवाई सर्वेक्षण किया और बैठक के जरिए स्थिति का जायजा लिया। हवाई सर्वेक्षण के पीएम मोदी ने राज्य सरकार को एक हजार करोड़ रुपये देने का ऐलान किया। साथ ही पीएम मोदी ने तूफान से निपटने में ममता सरकार के द्वारा उठाए गए कदमों की सराहना की।

अमित शाह ने ममता सरकार पर लगाया था ये आरोप

केंद्र सरकार ने एक राज्य से दूसरे राज्य प्रवासी मजदूरों को भेजने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को जाने की अनुमति दी है। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ममता बनर्जी को चिट्ठी लिखी और उन पर आरोप लगाते हुए कहा था कि उनकी सरकार प्रवासियों की ट्रेनों को राज्य में आने से रोक रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में प्रवासियों की एंट्री नहीं हो रही है।

इसको लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पत्र लिखकर कहा कि आपके सरकार प्रवासियों की ट्रेनों को राज्य में आने से रोक रहे हैं, जो सही नहीं है। इस फैसले को तुरंत बदला जाए। जिसके बाद ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी ने अमित शाह को जवाब दिया टीएमसी ने कहा कि हमेशा से राजनीति कर रहे हैं और कुछ नहीं कर रहे हैं या तो वह इसको प्रूफ करें या फिर वह माफी मांगे। अमित शाह से कहा कि आप आरोप साबित करें या माफी मांगें।

Next Story
Top