Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश के सभी नागरिकों के लिए फ्री हो वैक्सीन, दुनिया के हर टीके तक हो भारतीयों की पहुंच: शशि थरूर

कांग्रेस नेता और केरल के तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर की अप्रैल में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी थी। कांग्रेस नेता अभी भी बीमार हैं। बता दें कि कांग्रेस नेता ने जो वीडियो अपने ट्विटर एकाउंट से शेयर किया है इसमें वह अस्पताल में बेड पर देखे जा रहे हैं।

देश के सभी नागरिकों के लिए फ्री हो वैक्सीन, दुनिया के हर टीके तक हो भारतीयों की पहुंच: शशि थरूर
X

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने बुधवार को अपने ट्विटर एकाउंट से एक वीडियो शेयर कर सभी के लिए फ्री वैक्सीन की वकालत की है। कांग्रेस नेता ने वीडियो संदेश में कहा है कोरोना वायरस से देश को बचाना होगा। देश के सभी नागरिकों को फ्री वैक्सीन उपलब्ध होनी चाहिए। कांग्रेस नेता ने केंद्र की मोदी सरकार की वैक्सीन पॉलिसी पर भी टिप्पणी की।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि कांग्रेस नेता और केरल के तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर की अप्रैल में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी थी। कांग्रेस नेता अभी भी बीमार हैं। बता दें कि कांग्रेस नेता ने जो वीडियो अपने ट्विटर एकाउंट से शेयर किया है इसमें वह अस्पताल में बेड पर देखे जा रहे हैं।

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने अपने वीडियो संदेश में कहा कि जैसा कि आप देख सकते हैं मैं बिस्तर पर हूं। लॉन्ग कोविड संक्रमण से पीड़ित हूं। मैं बस सभी से कहना चाहता हूं कि मैंने सरकारी बयान देखा कि इस साल दिसंबर के अंत तक सभी को टीका लग जाएगा। जबकि टीकों की उपलब्धता या टीकों की कमी को देखते हुए मुझे आश्चर्य है कि मोदी सरकार यह कैसे कर पाएगी?'

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने किया था ये वादा

जानकारी के लिए आपको बता दें कि बीते एक हफ्ते पहले भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने टीकाकरण अभियान को लेकर दावा किया था कि अभियान पटरी पर है। केंद्र कि मोदी सरकार की प्लानिंग है कि इस वर्ष दिसंबर तक सभी लोगों का टीकाकरण कर दिया जाए। वहीं कांग्रेस नेता शशि थरूर का कहना है कि सरकार की वैक्सीनेशन नीति में बदलाव के लिए मैं कांग्रेस के इस अभियान का समर्थन करता हूं।

जिसमें मांग की गई है कि सभी भारतीयों की पहुंच दुनिया की अलग-अलग वैक्सीन तक हो। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के द्वारा तय की गई समयसीमा के भीतर भारतीयों का टीकाकरण मुफ्त में किया जाए। इसके अलावा उन्होंने कहा कि जब मोदी सरकार के पास सस्ती कीमतों पर टीके खरीदने और उन्हें मुफ्त में जनता को देने की व्यवस्था है तो यह अस्वीकार्य है कि राज्य, प्राइवेट अस्पताल किसी बाजार में प्रतिस्पर्धा करें।

Next Story