Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Uttarakhand Rain Update: कुमाऊं के इन 4 जिलों में भारी नुकसान के बाद शाह और धामी का हवाई सर्वे, अब तक 46 लोगों की मौत

उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे करेंगे तो वहीं दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह हालत पर हाईलेवल मीटिंग करेंगे।

Uttarakhand Rain Update: कुमाऊं के इन 4 जिलों में भारी नुकसान के बाद शाह और धामी का हवाई सर्वे, अब तक 46 लोगों की मौत
X

उत्तराखंड (Uttarakhand) में बारिश के बाद बाढ़ और भूस्खलन (Rain, Flood, Landslide) की वजह से हालात अभी खराब ही है। इस प्राकृतिक आपदा की वजह से अब तक मरने वालों की संख्या 46 हो गई है। अभी भी बारिश को लेकर अलर्ट जारी है। एक तरफ राज्य के सीएम पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे करेंगे तो वहीं दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह हालत पर हाईलेवल मीटिंग करेंगे।

ताजा अपडेट के मुताबिक, अब तक मरने वालों की संख्या 46 पहुंच गई है। कई लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं। वहीं नैनीताल और कालाधूंगी सड़क मार्ग को खोल दिया गया है। उत्तराखंड के एसईओसी ने रिपोर्ट देते हुए कहा कि अब तक इस आपदा में 46 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य में बाढ़ और बारिश की वजह से 11 लोग लापता हैं।

सूत्रों के हवाले से एएनआई की रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तराखंड के हालात को लेकर एक समीक्षा बैठक केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह करेंगे। आज शाह उत्तराखंड पहुंच रहे हैं जहां वह कल प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा भी करेंगे। नैनीताल जिले के ज्योलीकोट में मशीन की मदद से सड़क को साफ किया जा रहा है। बीते दिन भारी बारिश की वजह से नैनीताल-कालाढूंगी सड़क मार्ग को फिर से खोल दिया गया है और यातायात को सुचारु रूप से चालू कर दिया गया है। उत्तराखंड के डीजीपी ने जानकारी देते हुए कहा कि बारिश का सबसे ज्यादा असर राज्य के कुमाऊं इलाकों में देखा गया है। जिसमें नैनीताल, हल्द्वानी, उधम सिंह नगर, चंपावत शामिल हैं।

मौसम विभाग की तरफ से अलर्ट जारी करते हुए कहा कि उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में रिकॉर्ड तोड़ बारिश के बाद अब मौसम साफ हो जाएगा। उत्तराखंड के कई इलाकों में लगातार तीन दिन की बारिश के बाद मौसम में सुधार के साथ अभी भी कई इलाकों में बूंदा बांदी होगी।

Next Story