Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों ने ह्यूस्टन में चीनी दूतावास को कब्जे में लिया

अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों ने ह्यूस्टन में चीनी दूतावास को कब्जे में लिया
X
अमेरिका चीन

तनातनी के बीच अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों ने ह्यूस्टन में चीनी दूतावास को कब्जे में लिया है। मिली जानकारी के अनुसार, अमेरिका (यूएस) के ह्यूस्टन शहर में स्थित चीनी वाणिज्य दूतावास को आधिकारिक तौर पर आज बंद कर दिया गया है। 40 साल पहले खुले इस दूतावास को पहली बार इस तरह बंद करवाया गया है। बताया रहा है कि अमेरिकी एजेंटों ने चीनी वाणिज्य दूतावास के भीतर घुसकर इसे बंद कराया है। कुछ दिनों पहले ही अमेरिका ने ह्यूस्टन में चीनी दूतावास बंद करने का निर्देश दिया था। इस आदेश के बाद से ही दोनों देशों के बीच तनातनी चरम पर पहुंच गई है। बता दें कि पहले से ही अमेरिका और चीन के बीच कोरोना वायरस के नियंत्रण को लेकर जुबानी जंग चल रही है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, अमेरिका ने चीन से 3 दिन के अंदर ह्यूस्टन में अपने वाणिज्य दूतावास को बंद करने के लिए कहा था। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने आरोप लगाया था कि यह जासूसी और बौद्धिक संपदा की चोरी का एक केंद्र है। उच्च अमेरिकी अधिकारियों ने वाणिज्य दूतावास पर अमेरिका में बीजिंग के जासूसी अभियानों का हिस्सा होने का भी आरोप लगाया था।

डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन द्वारा तय की गई समय सीमा के खत्म होने से एक घंटे से भी पहले ही दूतावास पर लगे चीनी झंडे को हटा दिया गया। इसी के साथ ही दूतावास को सील कर दिया गया।अधिकारियों ने इमारत पर कब्जा भी कर लिया। वहीं करीब 30 प्रदर्शनकारियों को बैनर के साथ वाणिज्य दूतावास के बाहर जश्न मनाते हुए भी देखा गया। ह्यूस्टन पुलिस ने बैरिकेड्स लगा दिए और 40 सालों से चीन सरकार के कब्जे वाली इमारत के पास की सड़कों को बंद कर दिया गया है। पुलिस ने वाणिज्य दूतावास की इमारत के चारों ओर सुरक्षा कड़ी कर दी है।

Next Story
Top