Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

China America: एक रिपोर्ट में खुलासा, डोनाल्ड ट्रंप को सत्ता से हटाने के लिए चीन बना रहा खास प्लान

कोरोना वायरस महामारी को लेकर जहां अमेरिका और चीन के बीच दूरियां आ रही है। तो वहीं नवंबर में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव को लेकर अब चीन एक बड़ी रणनीति बनाने की तैयारी में है।

China America: एक रिपोर्ट में खुलासा, डोनाल्ड ट्रंप को सत्ता से हटाने के लिए चीन बना रहा खास प्लान
X

कोरोना वायरस महामारी को लेकर जहां अमेरिका और चीन के बीच दूरियां आ रही है। तो वहीं नवंबर में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव को लेकर अब चीन एक बड़ी रणनीति बनाने की तैयारी में है। एक सूत्र के मुताबिक जानकारी मिली है कि चीन नहीं चाहता कि दोबारा अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप अमेरिका की सत्ता पर काबिज हो।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एक रिपोर्ट से खुलासा हुआ है चीन के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को दोबारा अमेरिका के राष्ट्रपति बनने और इसके लिए प्लानिंग तैयार कर रहे हैं। ताकि दोबारा से वो सत्ता में वापसी ना करें। अमेरिकी खुफिया एजेंसियों और इंटेलिजेंस ब्यूरो के मुताबिक, राष्ट्रपति चुनाव में एक बार फिर से विदेशी हस्तक्षेप कर सकते हैं।

इससे पहले हुए चुनाव में रूस को लेकर सवाल उठे थे और अब चीन अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में चीन अहम भूमिका निभा सकता है। इंटेलिजेंस एंड सिक्योरिटी सेंटर के डायरेक्टर ने जानकारी देते हुए बताया कि रूस, चीन और ईरान नवंबर में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में हस्तक्षेप कर सकते हैं। इसको लेकर यह तीनों देश रणनीति बना रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, रूस ट्रंप के विरोधी उम्मीदवार के खिलाफ काम कर रहा है। इसका मतलब रूस अमेरिका का समर्थन चाहता है। वहीं चीन नहीं चाहता कि अमेरिका में दोबारा से ट्रंप राष्ट्रपति बने। चीन ट्रंप को ऐसा राष्ट्रपति मांगता है। जिनके अगले कदम को लेकर पहले ही अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। ऐसे में आने वाले भविष्य में चीन और अमेरिका के बीच तल्खी और बढ़ सकती है।

इंटेलिजेंस ब्यूरो ने जानकारी देते हुए बताया कि ईरान ट्रंप और हमारे खिलाफ लगातार सोशल मीडिया पर गलत जानकारी शेयर कर रहा है। इराक ट्रंप को दोबारा अमेरिकी राष्ट्रपति नहीं बनने देना चाहता है। इसलिए वह लगातार अमेरिका में राष्ट्रपति को बदलने के लिए प्रचार कर रहा है। हालांकि, अमेरिकी खुफिया अधिकारी ने चुनाव में चीन और रूस के हस्तक्षेप संबंधी बारीकियां शेयर नहीं की है।

Next Story