Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Uri Attack 3 Years: जानें कैसे उरी और पुलवामा हमलों के बाद मोदी सरकार ने तोड़ी आतंकवाद की कमर, ये लिए एक्शन

मोदी सरकार (Modi Govt) ने अपने कार्यकाल की शुरूआत से ही आतंकवाद को लेकर सख्ती दिखाई है। पाकिस्तान (Pakistan) द्वारा किए गए हर एक हमले का मोदी सरकार ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। मोदी सरकार ने वो हर एक कदम उठाया है जिससे भारत में आतंकवाद को पनपने से रोका जा सके।

Uri Attack 3 Years: जानें कैसे उरी और पुलवामा हमलों के बाद मोदी सरकार ने तोड़ी आतंकवाद की कमर, ये लिए एक्शनUri Attack 3 Years Modi Govt action terrorism after Uri Pulwama attacks

भारत ने हर बार पाकिस्तान द्वारा किए गए हमलों का मुंहतोड़ जवाब दिया है। लेकिन फिर भी पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आता। यहां तक कि 2016 में हुए उरी हमले (Uri Attack) के बाद भारत ने पकिस्तान की सीमाओं में घुसकर पाकिस्तान को सबक सिखाया है। 18 सितंबर को आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने उरी में स्थित भारतीय सेना के कैंप पर हमला किया था। जिसमें करीब 20 भारतीय जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थे।

मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ लिया कड़ा एक्शन

जिसके बाद मोदी सरकार चुप नहीं बैठी। 29 सितंबर 2016 को मोदी सरकार ने देशवासियों को सूचित किया कि एलओसी पार करके पाक अधिक्रत कश्मीर में जाकर भारतीय जवानों ने सर्जिकल स्ट्राइक (Surgicak Stike) की थी। यह हमला उन्हीं लॉन्च पैड पर किया गया था जहां से उरी अटैक के लिए आतंकवादियों को तैयार किया गया था। भारतीय सेना ने उरी हमले के संचालक को भी मार गिराया था। भारतीय मीडिया संस्थानों की रिपोर्ट के अनुसार सर्जिकल स्ट्राइक में करीब 35 से 70 के बीच आतंकवादियों को मार गिराया था।

मोदी सरकार ने ऐसे कम किया आतंकवाद

सरकार अच्छी तरह समझ चुकी थी कि कश्मीर में आतंकवाद खत्म करने के लिए वहां किसी भी तरह आतंकवादियों के वित्त पोषण को रोकना होगा। जिस वजह से मोदी सरकार ने एक और बड़ा फैंसला लिया। नवंबर 2016 में मोदी सरकार ने 1000 व 500 रुपये के नोटों के विमुद्रीकरण (Demonetization) की घोषणा की।

भारतीय नागरिकों को इन्हें बदलकर 500 व 2000 के नए नोट जारी किेए गए। विमुद्रीकरण के कदम ने उस काले धन का आतंकवाद के लिए होने वाले इस्तेमाल को खत्म कर दिया। विमुद्रीकरण के बाद कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों में भारी गिरावट आई।

पुलवामा हमले का बदला

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में भी भारतीय जवानों से भरे वाहन पर पाकिस्तान द्वारा हमला किया गया था। जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। मोदी सरकार ने पाकिस्तान के इस हमले का भी मूहतोड़ जवाब दिया। 26 फरवरी 2019 की सुबह भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान की सीमा में अंदर घुसकर बालाकोट के खैबर पख्तूनवा प्रांत में बम गिराकर हमला किया। वायुसेना के इस हमले में भी बड़ी संख्या में आतंकवादी मारे गए थे। यह भी पाकिस्तान के लिए एक बहुत बड़ा झटका था।

पाकिस्तान में डर

पाकिस्तान यह बात अच्छी तरह समझ चुका है कि भारत से साथ पाकिस्तान युद्ध करके सभी नहीं जीत सकता जिस वजह वो छद्म युद्ध के तरीकों का इस्तेमाल करता है। लेकिन मोदी सरकार ने उसके हर हमले का कड़ा जवाब दिया। कश्मीर से आतंकवाद पूरी तरह खत्म कर देने के लिए मोदी सरकार ने विगत अगस्त में भारतीय संविधान से आर्टिकल 370 के प्रावधानों को समाप्त कर दिया। जो कि जम्मू-कश्मीर के राज्य को विशेष दर्जी प्रदान करता था। भारत के इस कमद के बाद पाकिस्तान पूरी तरह बौखलाया हुआ है। क्योंकि मोदी सरकार का यह कदम पाकिस्तान के आखिरी प्रॉक्ज़ी वॉर के हथियार को भी विफल कर देगा।

Next Story
Share it
Top