Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बीएसएफ का अपग्रेडेशन शुरू, भारत-पाकिस्तान सीमा पर एंटी ड्रोन सिस्टम को मंजूरी

भारत-पाकिस्तान सीमा पर बीएसएफ की ताकत बढ़ने जा रही है बीएसएफ यानी सीमा सुरक्षा बल में अपग्रेडेशन का काम शुरू हो गया है।

बीएसएफ का अपग्रेडेशन शुरू, भारत-पाकिस्तान सीमा पर एंटी ड्रोन सिस्टम को मंजूरी
X
बीएसएफ ने मार गिराए 5 पाकिस्तानी

भारत-पाकिस्तान सीमा पर बीएसएफ की ताकत बढ़ने जा रही है बीएसएफ यानी सीमा सुरक्षा बल में अपग्रेडेशन का काम शुरू हो गया है और वही भारत-पाकिस्तान सीमा पर एंट्री ड्रोन सिस्टम को मंजूरी मिल गई है। अब पाकिस्तानी बॉर्डर पर बीएसएफ की पैनी नजर रहेगी।

बीएसएफ के पूर्णकालिक महान निर्देशक राकेश अस्थाना ने पद संभालने के बाद कहा कि बीएसएफ अब तकनीकी रूप से मजबूत होने वाला है। इसका अपग्रेडेशन का काम शुरू हो गया है। 426 ड्रोनो को भारतीय पाकिस्तान सीमा पर एंट्री डॉन सिस्टम के लिए मंजूरी मिल गई है। यह सिस्टम पंजाब, जम्मू कश्मीर में अपग्रेड होंगे जहां से दुश्मनों पर पैनी नजर रहेगी। इन सिस्टम ओं का काम घुसपैठ को रोकना और आतंकवादियों को भारत में एंट्री करने से रोकना होगा।

वहीं पाकिस्तान और बांग्लादेश सीमा पर बीएसएफ द्वारा संचालित सभी 1923 सीमा चौकियां सेंसर और सीसीटीवी से लैस होंगी। अभी भारत-पाकिस्तान पर परीक्षण किया जा रहा है। पंजाब और जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों के लिए हथियार-लोड ले जाने वाले किसी भी ड्रोन को शूट करने के लिए सीमा पर लगाया जा रहा है।

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि जिसमें 1,500 पोस्ट सीमा पार करने और किसी भी हथियार भुगतान-भार परिवहन को पार करने के लिए ड्रोन-विरोधी प्रणाली का उपयोग करने के लिए ड्रोन उड़ाने में सक्षम हो रहा है। गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार, जबकि छोटे और माइक्रो ड्रोन की लागत लगभग 88 करोड़ रुपये आएगी।

सुरक्षा एजेंसियों की मदद से बीएसएफ संवेदनशील पंजाब सीमा पर स्वदेशी विरोधी ड्रोन प्रणाली का परीक्षण कर रहा है। पाकिस्तान पिछले एक साल में चीनी ड्रोनों का उपयोग पंजाब में खालिस्तानी आतंकवादियों के साथ-साथ जम्मू-कश्मीर में जिहादियों के लिए राइफल, पिस्तौल और ग्रेनेड ले जाने के लिए कर रहा है।

बीते दिन राइफल और अफगान हेरोइन ले जा रहे पांच पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार गिराया। नए डीजी ने अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं कि बीएसएफ दोनों सीमाओं पर सक्रिय रहेगा और किसी भी भारत विरोधी गतिविधि की अनुमति नहीं देगा। बीएसएफ प्रमुख ने व्यक्तिगत रूप से कंपनी कमांडर से बात की, जिसने तरनतारन सेक्टर में सफल ऑपरेशन को अंजाम दिया।

Next Story