Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अयोध्या: इकबाल अंसारी बोले- मस्जिद का डिजाइन विदेशों की तर्ज पर, हमें नहीं स्वीकार

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इकबाल अंसारी ने कहा है कि अयोध्या का ही नहीं, बल्कि देश का कोई भी मुसलमान ऐसी मस्जिद को स्वीकार नहीं करेगा, जिसका डिजाइन विदेशी शैली पर हो।

अयोध्या: इकबाल अंसारी बोले- मस्जिद का डिजाइन विदेशों की तर्ज पर, हमें नहीं स्वीकार
X

इकबाल अंसारी, फोटो फाइल

बाबरी मस्जिद के पूर्व पक्षकार इकबाल अंसारी ने धन्नीपुर में प्रस्तावित जमीन पर बनने वाली मस्जिद के डिजाइन पर सवाल उठाए हैं। इकबाल अंसारी ने कहा है कि मस्जिद का डिजाइन विदेशों की तर्ज पर है। हम भारत के नागरिक हैं, हम भारतीय शैली पर बनी मस्जिद को स्वीकार करेंगे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इकबाल अंसारी ने कहा है कि अयोध्या का ही नहीं, बल्कि देश का कोई भी मुसलमान ऐसी मस्जिद को स्वीकार नहीं करेगा, जिसका डिजाइन विदेशी शैली पर हो। हम हमेशा हिंदू और मुसलमानों के बीच में रहते हैं। मंदिर-मस्जिद की अपनी अलग-अलग पहचान होती है। इकबाल ने यह भी कहा है कि 70 सालों से मस्जिद के लिए लड़ाई लड़ी गई, लेकिन आज अयोध्या के किसी भी पक्षकार से कोई भी सलाह-मशविरा नहीं लिया गया।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 5 एकड़ जमीन को मस्जिद निर्माण के लिए दिया है। चंद दिनों पहले ही धन्नीपुर में बनने वाली मस्जिद का डिजाइन लॉन्च किया गया था।

डिजाइन के मुताबिक, मस्जिद में गुम्बद नहीं है। परिसर में मस्जिद के अलावा म्यूजियम, अस्पताल, लाइब्रेरी और कम्युनिटी किचन बनाया जाएगा। डिजाइन के मुताबिक, मस्जिद की इमारत गोल होगी। मिली जानकारी के मुताबिक, मस्जिद को अगले 2 साल में बनाकर पूरा करने का टारगेट है।

इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन (IICF) नक्शा पास होने और स्वायल टेस्टिंग के हिसाब से मस्जिद के निर्माण की तारीख तय करेगा। सुन्नी वक्फ बोर्ड ने जमीन पर मस्जिद, अस्पताल, म्यूजियम सहित अन्य चीजें विकसित करने के लिए इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ट्रस्ट बनाया है।

Next Story