Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus Lockdown : UP MLA अमनमणि त्रिपाठी अपने 7 समर्थकों के साथ गिरफ्तार, जानें क्या है पूरा मामला

Coronavirus Lockdown : उत्तर प्रदेश के बिजनौर में निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी और उनके 7 समर्थकों के साथ पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Coronavirus Lockdown : UP MLA अमनमणि त्रिपाठी अपने 7 समर्थकों के साथ गिरफ्तार, जानें क्या है पूरा मामला
X

Coronavirus Lockdown : उत्तर प्रदेश के बिजनौर में निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी और उनके 7 समर्थकों के साथ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उन्हें महामारी एक्ट और आईपीसी की कई धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने कहा कि निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी को सोमवार को उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले के नजीबाबाद में छह लोगों के साथ गिरफ्तार किया। विधायक की दो गाड़ियां भी जब्त की गई हैं। यूपी पुलिस के प्रवक्ता के मुताबिक, विधायक को रूटीन चेकिंग के दौरान बिजनौर पुलिस ने रोका था। वह पुलिस को कोई यात्रा पास नहीं दिखा सके।

बात दे कि विधायक उत्तराखंड से लौट रहा था। उस पर महामारी अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया गया है। विधायक की गिरफ्तारी के कुछ ही घंटे बाद राज्य सरकार ने विधायक के बद्रीनाथ यात्रा के प्रयास से खुद को दूर कर लिया और दावा किया कि वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता के लिए प्रार्थना करने जा रहे थे। जिनका हाल ही में निधन हुआ था।

जानकारी के लिए बता दें कि निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी के खिलाफ उत्तराखंड के टिहरी में मामला दर्ज कर लिया गया है। उनके खिलाफ लॉक डाउन का उल्लंघन करने का आरोप है। नियमों की अनदेखी करते हुए कहा है कि सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता स्वर्गीय आनंद सिंह बिष्ट के पितृ कार्य के नाम पर उत्तराखंड के बद्रीनाथ घूमने गए थे।

लेकिन वहीं दूसरी तरफ सीएम योगी के भाई महेंद्र ने किसी भी पितृ कार्य से इंकार कर दिया है। ऐसे में विधायक अमनमणि के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही हो सकती है।

जानकारी के लिए बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता के पितृ पूरा करने के लिए अनुमति उत्तराखंड के अपर मुख्य सचिव के द्वारा दी गई थी। उन्होंने 11 लोगों को अनुमति दी थी। देहरादून से लेकर चमोली तक अमनमणि त्रिपाठी को पूरा प्रोटोकॉल दिया गया था।

टिहरी में अमनमणि खिलाफ जो मामला दर्ज हुआ है। उसमें बदसलूकी और रौब दिखाने का आरोप है। उन्होंने गोचर में डॉक्टर और स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों के साथ बदसलूकी की थी और अपना रौब दिखाया था।

Next Story