Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Union Budget 2019 Highlights : स्वच्छता अभियान के बाद अब टूरिज्म को बजट से है बहुत उम्मीदें

Union Budget 2019 Highlights: देश में टूरिज्म इन्फ्रास्ट्राक्चर को लेकर नई घोषणाओं की उम्मीद है। फरवरी में जब पीयूष गोयल ने आंतरिम बजट पेश किया था तो उन्होंन कोई योजना का ऐलान तो नहीं किया पर देश में सैलानियों के लिए बेहतर माहौल बनाने का भरोसा दिया था। जिसके बाद पर्यटन से जुड़े लोगों को अन्दर एक उम्मीद जगी।

Union Budget 2019 Highlights : स्वच्छता अभियान के बाद अब टूरिज्म को बजट से है बहुत उम्मीदें
X
Union Budget 2019 Highlight Tourism Sector Expectation Tax Reforms Modi Sarkar Budget

लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करने वाली भारतीय जनता पार्टी 5 जुलाई को अपने दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट (Union Budget) पेश करेगी। इस बजट से देश के हर राज्य, हर वर्ग के लोगों को बड़ी उम्मीदें हैं। चुनाव के तुरंत बाद का बजट अक्सर पार्टियों के घोषणा पत्र ( Manifesto) की कई योजनाओं को लेकर आता है। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के वक्त भाजपा ने भी जनता से वादे किए हैं इसलिए उन्हें इस बजट से खासी उम्मीदें हैं।

देश में टूरिज्म इन्फ्रास्ट्राक्चर (Tourism Infrastructure) को लेकर नई घोषणाओं की उम्मीद है। फरवरी में जब पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने आंतरिम बजट पेश किया था तो उन्होंन कोई योजना का ऐलान तो नहीं किया पर देश में सैलानियों के लिए बेहतर माहौल बनाने का भरोसा दिया था। जिसके बाद पर्यटन से जुड़े लोगों को अन्दर एक उम्मीद जगी। पिछले 2-3 सालों को देखें तो भारत में विदेशी सैलानियों की बड़ी संख्या में काफी इजाफा हुआ है।

मोदी सरकार 2.0 में केंद्रीय पर्यटन मंत्री (Central tourism minister) बनाए गए प्रहलाद पटेल ने बताया कि 2015 के बाद देश में आने वाले पर्यटकों की वृद्धि दर 0.45 से बढ़कर 2017 में 8.7 फीसदी हो गई। इसके पीछे प्रधानमंत्री का स्वच्छता अभियान भी प्रमुख है जिसने विदेशी पर्यटकों को भारत में आने के लिए सोचने पर मजबूर किया। देश में नए पर्यटन स्थलों को बनाया गया। पुराने वालों का जिर्णोद्धार किया गया।


पर्यटन मंत्री ने सदन में पर्यटन से जुड़े सवाल के जवाब में बोले कि देश भर में 100 आदर्श स्मारकों का चयन किया गया है। जिसमें मूलभूत सुविधाओं के अलावा वाईफाई की भी सुविधा दी जाएगी। इसके लिए देश के करीब साढ़े तीन हजार से ज्यादा स्मारकों में 100 का चयन किया गया है। इसके बाद फिर से चयन किया जाएगा और बाकी के स्मारकों की बेहतरी के लिए काम किया जाएगा।

पांच साल के सबसे निचले स्तर पर आ चुके सकल घरेलू उत्पाद(GDP) को बढ़ाने के लिए टूरिज्म महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। पर्यटन को जितना ज्यादा बढ़ावा मिलेगा रोजगार के अवसर उतने ही ज्यादा निकलकर सामने आएंगे। विशेषज्ञों की माने तो इस सेक्टर को अनुकूल नीतियों और बेहतर टैक्स रिफॉर्म की जरूरत है।देश में बढ़ रहे जलसंकट, ट्रैफिक जाम और प्रदूषण जैसी चिंताओं से निपटते हुए टूरिज्म के लिए बुनियादी नीतियों की जरूरत है ताकि दुनिया की नजर को भारत के नक्शे पर भी रोका जा सके।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story