Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

UN में पीएम मोदी ने रखीं ये 7 बातें, आतंकवाद के खिलाफ दुनिया को दी चेतावनी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 74 वें सत्र में शुक्रवार को अपने संबोधन में दुनिया के सभी देशों से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होने का आग्रह किया। 20 मिनट के अपने भाषण में पीएम मोदी ने पाकिस्तान का जिक्र नहीं किया।

UN में पीएम मोदी ने रखीं ये 7 बातें, आतंकवाद के खिलाफ दुनिया को दी चेतावनी
X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 74 वें सत्र में शुक्रवार को अपने संबोधन में दुनिया के सभी देशों से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होने का आग्रह किया। 20 मिनट के अपने भाषण में पीएम मोदी ने पाकिस्तान का जिक्र नहीं किया। पीएम मोदी ने कहा कि यह सबसे बड़ा था मानवता के लिए और सबसे बड़ी वैश्विक चुनौती।

लेकिन आतंकवाद पर दृढ़ता से ध्यान केंद्रित करना होगा। इस मुद्दे पर एकमत की कमी उन बहुत सिद्धांतों को जन्म देती है, जो संयुक्त राष्ट्र के निर्माण का आधार हैं। यह देखते हुए कि भारत एक ऐसा देश है, जिसने दुनिया को युद्ध नहीं, बल्कि बुद्ध ने शांति का संदेश दिया। पीएम ने आगे कहा कि और यही कारण है, आतंकवाद के खिलाफ हमारी आवाज दुनिया को इस बुराई के बारे में सतर्क करने के लिए गंभीरता के साथ आगे बढ़ती है।

पीएम ने दुनिया के नेताओं के सामने रखे ये 7 बिंदू

1. पीएम मोदी ने दुनिया के सामने रखा उदाहरण - गंभीर वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए सामूहिक प्रयासों की मांग की। पीएम मोदी ने अपने भाषण में प्रसिद्ध तमिल दार्शनिक कनियन पुंगुंदरनार के उद्धरणों के साथ-साथ स्वामी विवेकानंद के उद्धरणों पर भी जोर दिया। पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया किसी के हित में नहीं है। पिछले पांच सालों में भारत ने राष्ट्रों के बीच भाईचारे की अपनी सदियों पुरानी महान परंपरा को मजबूत करने और विश्व के कल्याण के लिए काम किया है।

2. प्लास्टिक मुक्त राष्ट्र बनाने की पहल - पीएम मोदी ने दुनिया को बताया कि भारत देश को प्लास्टिक मुक्त राष्ट्र बनाने के लिए एक बहुत बड़े अभियान की शुरुआत हो चुकी है। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74 वें सत्र में पीएम मोदी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र से एकल उपयोग प्लास्टिक से मुक्त होने का आह्वान किया।

3. आयुष्मान भारत योजना- पीएम मोदी ने कहा कि जब एक विकासशील देश, दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना को सफलतापूर्वक चलाता है। तो 500 मिलियन लोगों को मुफ्त उपचार, उपलब्धियों और उत्तरदायी प्रणालियों के लिए 5 लाख रुपये के सालाना स्वास्थ्य की सुविधा देता है। इस योजना के परिणाम दुनिया को एक नई राह दिखाते हैं।

4. आतंकवाद के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र को खड़ा करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की मांग की - पीएम मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया। जिसे उन्होंने किसी एक देश के लिए नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक बताया। मोदी ने आतंकवाद के मुद्दे पर सदस्य देशों के बीच सर्वसम्मति की कमी पर जोर देते हुए कहा कि यह उन बहुत सिद्धांतों को जन्म देता है जो संयुक्त राष्ट्र के निर्माण का आधार हैं।

5. यूएन में पीएम ने रखी अखंडता की बात- आधुनिक तकनीक जीवन के हर क्षेत्र में व्यापक बदलाव ला रही है और एक खंडित दुनिया किसी के हित में नहीं है। पीएम मोदी ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को बहुपक्षवाद को एक नई दिशा देने के लिए दबाव डाल रहा है। मोदी ने कहा कि जैसे-जैसे दुनिया एक नए युग से गुजर रही है। देशों के पास अपनी सीमाओं के भीतर खुद को सीमित करने का विकल्प नहीं है।

6. ग्लोबल वार्मिंग पर जताई चिंता- पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में भारत अग्रणी देशों में से एक था। हालांकि, ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में इसका योगदान बहुत कम था। पीेएम ने जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए अपनी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में दुनिया को बताया।

7. आतंकवाद के खिलाफ दुनिया को दी चेतावनी- आंतवाद के प्रहार करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यह दुनिया के लिए आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने के लिए पूरी तरह से आवश्यक है क्योंकि यह दुनिया के लिए सबसे बड़ा खतरा बना हुआ है। भारत ने संयुक्त राष्ट्र शांति सेना को बनाए रखने में जोरदार योगदान दिया है। हमारे पास दुनिया को टेर के खिलाफ चेतावनी देने का अधिकार और इच्छाशक्ति है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story