Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Udaipur Case: सीएम गहलोत ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, NIA करेगी मामले की जांच, पाकिस्तानी कनेक्शन भी आया सामने

सीएम अशोक गहलोत ने सर्वदलीय बैठक (Rajasthan CM Meeting) बुलाई है। इस मामले जहां पाकिस्तान का हाथ होने की बात कही जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिक्रियाएं भी देखने को मिल रही हैं।

Udaipur Case: सीएम गहलोत ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, NIA करेगी मामले की जांच, पाकिस्तानी कनेक्शन भी आया सामने
X

राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर (Udaipur) में टेलर कन्हैयालाल का अंतिम संस्कार कर दिया गया है, लेकिन अभी भी हालात को काबू करने के लिए लागातार प्रशासन आदेश जारी कर रहा है। खबर है कि राजसमंद इलाके में पुलिस पर हमला किया गया, जिसके बाद सीएम अशोक गहलोत ने सर्वदलीय बैठक (Rajasthan CM Meeting) बुलाई है। इस मामले जहां पाकिस्तान का हाथ होने की बात कही जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिक्रियाएं भी देखने को मिल रही हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ताजा मामले को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज जयपुर में सर्वदलीय बैठक बुलाई है। जिसमें राज्य के सभी राज्य के राजनीतिक दलों को बुलाया गया है। ताकि इस मामले पर चर्चा की जा सके। डीजीपी एमएल लाठेर ने कहा कि कन्हैयालाल की हत्या में दो लोग मुख्य आरोपी हैं। उनके अलावा हमने तीन अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया है। हत्या के आरोपी रियाज और गौस मोहम्मद उसके संपर्क में थे।

उदयपुर टेलर कन्हैयालाल की हत्या के मामले में वहीं हुआ जिसका जांच एजेंसियों को डर था। इस हत्या में आरोपियों का पाकिस्तानी कनेक्शन सामने आया है। 10 पाकिस्तानी फोन नंबर आरोपी के मोबाइल से मिले हैं। वह जिम में बातें किया करते थे। हत्या में शामिल दोनों आरोपी पाकिस्तान के दावत ए इस्लामी संगठन के संपर्क में थे। इसमें से एक आरोपी दो बार नेपाल जा चुका था। दोनों ही आरोपी आईएसआईएस मोड्यूल से प्रभावित थे।

पूछताछ के दौरान दोनों आरोपियों से पता चला कि ये सुन्नी इस्लाम के सूफी बरेलवी समुदाय से थे और कराची के दावत ए इस्लामी के काफी करीबी संबंध थे। आतंक विरोधी आधिकारी ने कहा किदोनों ही आत्म कट्टरपंथी थे। अब इस मामले में यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि उनका भारत में किसी अन्य चरमपंथी सुन्नी संगठन से कोई संपर्क तो नहीं था। साथ ही उनका मुस्लिम ब्रदरहुड से कनेशन था। दोनों पर यूएपीए एक्ट के तहते मामला दर्ज किया गया है। अब इस केस को राष्ट्रीय जांच एजेंसी के हवाले किया जा रहा है।

और पढ़ें
Next Story