Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Omicron Alert: भारत में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की हुई एंट्री, हो गई पुष्टि... इस राज्य में मिले 2 केस, सरकार ने उठाया ये कदम

स्वास्थ्य मंत्रालय ने पीसी के दौरान जानकारी देते हुए ओमिक्रॉन को लेकर जानकारी दी। अब खबर है कि देश के कर्नाटक में दो ओमिक्रॉन संक्रमित व्यक्ति मिले हैं।

Omicron Alert: भारत में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की हुई एंट्री, हो गई पुष्टि... इस राज्य में मिले 2 केस, सरकार ने उठाया ये कदम
X

साउथ अफ्रीका (South Africa) से दुनिया के 29 देशों में फैले कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron in india) ने आखिरकार भारत में एंट्री कर ली है। कर्नाटक (Karnataka) राज्य में दो लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं। बीते 24 घंटे में ओमिक्रॉन के 2 मामले मिले हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस मामले की पुष्टि कर दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए कहा कि कर्नाटक के रहने वाले 66 वर्ष और 46 वर्ष के दो व्यक्तियों में ओमिक्रॉन वायरस की पुष्टि हो गई है। 29 देशों में ओमिक्रॉन के 373 मरीज संक्रिमत पाए गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने पीसी के दौरान कहा कि विश्व में अभी भी कोविड के मामलों में तेजी देखी जा रही है। पिछले एक हफ्ते में दुनिया में 70 फीसदी मामले यूरोप से आए हैं। एक हफ्ते में यूरोप में 2.75 लाख कोविड मामले आए और 29,000 से अधिक मृत्यु एक हफ्ते में यूरोप में दर्ज़ की गई। कर्नाटक के दो पुरुषों में ओमिक्रॉन वेरिएंट पाया गया है। बेंगलुरु एयरपोर्ट पर जांच के दौरान दोनों संक्रमित मिले।

पीसी के दौरान कहा कि केरल और महाराष्ट्र जैसे इन दो राज्यों में 10 हजार से ज्यादा सक्रिय मामले हैं। देश में 55 फीसदी मामले सिर्फ इन दो राज्यों से रिपोर्ट हुए हैं। लव अग्रवाल ने जानकारी देते हुए कहा कि देश में इस समय कोविड के 99,763 सक्रिय मामले हैं। देश में पिछले 24 घंटों में कोविड के 9,765 नए मामले सामने आए हैं। ओमिक्रॉन संबंधित मामलों में अब तक हल्के लक्षण पाए गए हैं। देश और दुनिया भर में अब तक ऐसे सभी मामलों में, कोई गंभीर लक्षण नहीं मिले हैं। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि उसके उभरते सबूतों का अध्ययन किया जा रहा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा स्थापित 37 लैब्स के INSACOG संघ के जीनोम अनुक्रमण प्रयास के माध्यम से कर्नाटक में अब तक ओमिक्रॉनय़ के दो मामलों का पता चला है। हमें घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन जागरूकता बेहद जरूरी है। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना जरूरी है। इन दो लोगों के संपर्कों की पहचान कर ली गई है और उनकी निगरानी की जा रही है। प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है। जोखिम वाले देशों से आने वाले यात्रियों को आगमन पर आरटी-पीसीआर टेस्ट करवाना जरूरी होगी। यदि कोविड के लिए सकारात्मक पाए जाते हैं, तो उनका इलाज प्रबंधन प्रोटोकॉल के तहत किया जाएगा। यदि रिपोर्ट नेगेटिव मिलती है तो 7 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन का पालन करेंगे।

Next Story