Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Chhattisgarh Congress : स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव बोले- कौन खिलाड़ी कप्तान बनने के बारे में नहीं सोचता ? सीएम पद को लेकर दिए यह संकेत

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के बीच तनातनी बरकरार है। इसके पीछे ढाई-ढाई साल सीएम के फॉर्मूले को जिम्मेदार बताया जा रहा है।

Chhattisgarh Congress : स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव बोले- कौन खिलाड़ी कप्तान बनने के बारे में नहीं सोचता ? सीएम पद को लेकर दिए यह संकेत
X
छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के बीच तनातनी। 

छत्तीसगढ़ कांग्रेस (Chhattisgarh Congress) में ढाई-ढाई साल सीएम के फॉर्मूले (CM Formula) पर मचे घमासान के बीच राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव (Health Minister TS Singh Deo) ने राजनीतिक संदेश दे दिया है। उनका कहना है कि अगर कोई व्यक्ति टीम में खेलता है तो निश्चित ही वो कप्तान बनने की सोचेगा। हालांकि उन्होंने आगे यह भी स्पष्ट किया कि ऐसा केवल खिलाड़ी के सोचने भर से नहीं होगा, बल्कि उसके भीतर वैसी योग्यताओं का होना भी जरूरी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के बीच तनातनी बरकरार है। इसके पीछे ढाई-ढाई साल सीएम के फॉर्मूले को जिम्मेदार बताया जा रहा है। हालांकि टीएस सिंह इससे इनकार करते हैं।

मीडिया से बातचीत में टीएस सिंह ने स्पष्ट कहा कि पार्टी ने ढाई-ढाई साल के फॉर्मूले पर कभी बात नहीं की। यह सिर्फ एक मीडिया का कयास था। उन्होंने कहा कि हाईकमान पार्टी में लोगों की भूमिका तय करता है। हम उन जिम्मेदारियों को निभाते हैं।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति टीम में खेलता है तो क्या वह कप्तान बनने के बारे में नहीं सोचता? हर कोई इस बारे में सोचता है, लेकिन सवाल उसके विचारों का नहीं, उसकी क्षमताओं का है।

सीएम पद से जुड़े सवाल पर टीएस सिंह देव ने कहा कि वह (भूपेश बघेल) 50 साल या 10 साल या 2 साल तक सीएम रह सकते हैं, यह तय नहीं है। भाई-बहनों में भी प्रतिद्वंद्विता होती है। स्वस्थ प्रतियोगिताएं होती हैं। आलाकमान ने जो जिम्मेदारी दी है, मैं उसे निभाऊंगा।

बता दें कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस के भीतर इस दिन अंदरूनी घमासान मचा है। भूपेश बघेल सरकार के ढाई साल पूरे होने के बाद अंतकर्लह चरम पर है। उधर, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीएम बघेल ने दिल्ली से लौट आने के बाद संकेत दिया कि वे आलाकमान के फैसले का इंतजार कर रहे हैं। जो भी फैसला होगा, मंजूर होगा।

Next Story