Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प तनाव कम करने के लिए भारत-पाक के प्रधानमंत्रियों से मिलेंगे

कश्मीर तनाव (Kashmir Tension) हल करने की दिशा में एक बार फिर अमेरिकी राष्ट्रपति ने दिलचस्पी दिखायी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) इसको लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan Prime Minister Imran Khan) से मुलाकात करेंगे।

भारत-पाक के प्रधानमंत्रियों से कश्मीर तनाव कम करने के लिए मिलेंगे ट्रम्प
X
Trump Will Meet Indo Pak Prime Ministers To Reduce Kashmir Tension

भारत-पाकिस्तान के बीच सुलह कराने को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प (US President Donald Trump) ने एक बार फिर दिलचस्पी दिखायी है। प्रधानमंत्री मोदी के जन्म दिन से पहले कश्मीर में तनाव कम करने के लिए जल्द दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों से मुलाकात करने की बात कही है। ट्रम्प ने कहा है कि भारत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan Prime Minister Imran Khan) से जल्द मुलाकात करेंगे।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मोदी के हाउडी मोदी कार्यक्रम से पहले बड़ा बयान दिया है। क्योंकि 22 सितंबर को डोनाल्ड ट्रम्प नरेंद्र मोदी के साथ कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करेंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कश्मीर में तनाव कम करने की दिशा में तेजी से प्रगति हुई है। जल्द प्रधानमंत्री मोदी और प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात करूंगा। इसमें भारत के प्रधानमंत्री से हाउडी मोदी कार्यक्रम में मुलाकात होगी। लेकिन पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात अभी तय नही हहैं।

संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान मुलाकात संभव

अमेरिकी राष्ट्रपति की पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र के दौरान मुलाकात हो सकती है। क्योंकि हाउडी मोदी कार्यक्रम के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र में भाग लेंगे। इसके बाद अनौपचारिक तौर पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से मुलाकात कर सकते हैं। जिसमें कश्मीर विवाद पर शांति कायम करने के लिए कह सकते हैं।

भारत को तीसरे देश का हस्तक्षेप स्वीकार नहीं

कश्मीर मामले को लेकर भारत को किसी भी तीसरे देश का हस्तेक्षप स्वीकार नहीं है। भारत पहले ही अमेरिका को संदेश दे चुका है कि कश्मीर मसला पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय मसला है। ऐसे में ट्रंप ने भी बयान देते हुए स्पष्ट नहीं किया कि भारत-पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों से मुलाकात के दौरान उनकी क्या रणनीति होगी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story