Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शराब की होम डिलीवरी करेंगी ये ई-कॉमर्स कंपनियां, सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकॉल का पालन जरूरी

हालांकि शराब की डिलीवरी कबसे शुरू की जाएगी, इसकी जानकारी कंपनियों ने नहीं दी है। पढ़िए खबर-

शराब की होम डिलीवरी करेंगी ये ई-कॉमर्स कंपनियां, सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकॉल का पालन जरूरी
X

कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते जारी देशव्यापी लॉकडाउन में शराब की बिक्री पर बैन लगा था, तो लोग अवैध तरीके से शराब बेच और खरीद रहे थे। हालांकि अब लॉकडाउन में काफी रियायत मिल चुकी हैं। ऐसे में अब ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन ( Amazon) और BigBasket जल्द ही कुछ शहरों में शराब की होम डिलीवरी (Alcohol Home Delivery) करेंगी। पश्चिम बंगाल में अमेजन और बिग बास्केट को शराब की होम डिलिवरी करने की मंजूरी मिल गयी है। ऑनलाइन ग्रॉसरी प्लेटफॉर्म बिग बास्केट और अमेजन के लिए यह पहला मौका होगा जब कंपनी भारत में शराब डिलीवर करेंगी। हालांकि शराब की डिलीवरी कबसे शुरू की जाएगी, इसकी जानकारी कंपनियों ने नहीं दी है। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल भारत का चौथा सबसे अधिक आबादी वाला राज्य है। यहां की जनसंख्या 9 करोड़ से अधिक है।

स्विगी और जोमैटो ने शराब की होम डिलीवरी की शुरुआत कंपनी झारखंड के कुछ शहरों से की है, जहां पर रांची में डिलीवरी शुरू की गई है। स्विगी का कहना है कि शराब की होम डिलीवरी के जरिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा सकता है, क्योंकि अगर ऐसा हुआ तो शराब की दुकानों पर भीड़ इकट्ठा नहीं होगी। इतना ही नहीं उनका यह भी कहना है कि सुरक्षित और जिम्मेदारी के साथ शराब की होम डिलीवरी करने से वे रिटेल आउटलेट्स के लिए बिजनेस भी पैदा कर सकते हैं।

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए देश भर में शराब की दुकानों पर भीड़ कम करने और सोशल डिस्टेंसिंग (social distancing) प्रोटोकॉल को लागू करने के लिए शराब की "होम डिलीवरी" पर विचार करने की सलाह दी है। वहीं लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान शराब की प्रत्यक्ष बिक्री (दुकानों के माध्यम से बिक्री) पर प्रतिबंध लगाने की बात की है।

Next Story